आगरा में 24 घंटे में रिकॉर्ड 115 एमएम बारिश, जलभराव तथा आवागमन बाधित

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भारी बारिश के कारण मैनपुरी तथा ताजनगरी आगरा में जलभराव से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। कई जगह पानी भरने के कारण लोग घरों में रहने को मजबूर हैं जबकि कई जगह पानी के कारण सड़क धंस जाने से लोगों का दूसरे छोर से संपर्क टूट गया है। मैनपुरी में बिजली गिरने से करीब सौ मीटर की दीवार गिर गई है। दोनों जिलों में राहत कार्य शुरू कर दिया गया है।पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भारी बारिश के कारण मैनपुरी तथा ताजनगरी आगरा में जलभराव से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। कई जगह पानी भरने के कारण लोग घरों में रहने को मजबूर हैं जबकि कई जगह पानी के कारण सड़क धंस जाने से लोगों का दूसरे छोर से संपर्क टूट गया है। मैनपुरी में बिजली गिरने से करीब सौ मीटर की दीवार गिर गई है। दोनों जिलों में राहत कार्य शुरू कर दिया गया है।   आगरा में आज तड़के से हो रही वर्षा के कारण राजपुर चुंगी छोटा उखर्रा में मीरा विहार कॉलोनी में घरों में करीब छह फुट पानी भर गया है। आगरा में 24 घंटे में रिकॉर्ड 115 एमएम बारिश, रात 1 से सुबह 7 बजे तक हुई सर्वाधिक बारिश। यहां पर लोग घरों से सामान ट्रैक्टर्स में लेकर सुरक्षित स्थानों पर पलायन कर रहे हैं। इसके साथ ही बारिश के बाद जिले में कई इलाकों में हालात बाढ़ जैसे हो गए हैं। यहां के मलपुरा में धनौली के अजीजपुर गांव में संजय का मकान ढह गया है।बारिश की वजह से चरामराईं मोबाइल सेवाएं। बिजली आपूर्ति ठप्प होने से कई टावर हुए बंद। जल भराव की वजह से नहीं चल पा रहे जेनरेटर। 7 घण्टे लगातार बारिश से बेहाल ताज नगरी।   उत्तर प्रदेश में भारी बारिश की चेतावनी, दस जिलों पर खतरा बढ़ा यह भी पढ़ें   जिसके कारण परिवार के कई सदस्य मलबे में दब गए। इन सभी को निकाला गया है, जबकि चार वर्ष की बच्ची डॉली अभी मलबे में दबी है। उसे निकालने का काम काफी तेजी से चल रहा है। आगरा में सड़क धंस जाने के कारण जैतपुर पिनाहट मार्ग अवरुद्ध है।   लगातार बारिश के चलते प्रदेश के 10 जिलों में हाई अलर्ट जारी यह भी पढ़ें   यहां पर बासौनी थाने के कुंअर खेड़ा गांव की पुलिया के भी क्षतिग्रस्त होने से आवागमन बंद है। जिसके कारण आगरा का इटावा से संपर्क टूट गया है। बारिश के कारण पिनाहट नंदगवा मार्ग की सड़क धंसने से वाहनों की आवाजाही बंद होने से लोग परेशान हैं।   प्रदूषण बना खतरा : 2029 तक आगरा में एसिड रेन की आशंका यह भी पढ़ें   मैनपुरी में गिरी आकाशीय बिजली   तेज आंधी-बारिश के साथ राजधानी में मौसम ने ली करवट, कहीं गिरे पेड़ तो कहीं किसानों का हुआ नुकसान यह भी पढ़ें मैनपुरी में आकाशीय बिजली गिरने से 60 फीट लम्बी दीवार ढह गई। मैनपुरी में रात भर बारिश का सिलसिला चला। सुबह से भी रिमझिम बरसात हो रही है। रात में आकाशीय बिजली गिरने से अजीतगंज क्षेत्र में 60 फीट लंबी दीवार ढह गई।    यहां के अजीतगंज निवासी राधाबल्लभ मिश्रा ने मैनपुरी कुसमरा मार्ग पर गांव के बाहर नये भवन का निर्माण कराया है। जिसकी पीछे की दीवार रात एक बजे आकाशीय बिजली गिरने से पलट गई। भवन में बने कमरे में रह रहे उपदेश एवं प्रवीन ने बमुश्किल बचायी जान। उपदेश कुमार ने बताया कि वे गहरी नींद में सो रहे थे। तभी अचानक बहुत तेज बिजली कड़कने की आवाज हुई। हम लोग कमरे से निकल कर भागे, कुछ समय बाद देखा तो पूरी दीवार पलटी पड़ी थी।

आगरा में आज तड़के से हो रही वर्षा के कारण राजपुर चुंगी छोटा उखर्रा में मीरा विहार कॉलोनी में घरों में करीब छह फुट पानी भर गया है। आगरा में 24 घंटे में रिकॉर्ड 115 एमएम बारिश, रात 1 से सुबह 7 बजे तक हुई सर्वाधिक बारिश। यहां पर लोग घरों से सामान ट्रैक्टर्स में लेकर सुरक्षित स्थानों पर पलायन कर रहे हैं। इसके साथ ही बारिश के बाद जिले में कई इलाकों में हालात बाढ़ जैसे हो गए हैं। यहां के मलपुरा में धनौली के अजीजपुर गांव में संजय का मकान ढह गया है।बारिश की वजह से चरामराईं मोबाइल सेवाएं। बिजली आपूर्ति ठप्प होने से कई टावर हुए बंद। जल भराव की वजह से नहीं चल पा रहे जेनरेटर। 7 घण्टे लगातार बारिश से बेहाल ताज नगरी।

जिसके कारण परिवार के कई सदस्य मलबे में दब गए। इन सभी को निकाला गया है, जबकि चार वर्ष की बच्ची डॉली अभी मलबे में दबी है। उसे निकालने का काम काफी तेजी से चल रहा है। आगरा में सड़क धंस जाने के कारण जैतपुर पिनाहट मार्ग अवरुद्ध है।

यहां पर बासौनी थाने के कुंअर खेड़ा गांव की पुलिया के भी क्षतिग्रस्त होने से आवागमन बंद है। जिसके कारण आगरा का इटावा से संपर्क टूट गया है। बारिश के कारण पिनाहट नंदगवा मार्ग की सड़क धंसने से वाहनों की आवाजाही बंद होने से लोग परेशान हैं।

मैनपुरी में गिरी आकाशीय बिजली

मैनपुरी में आकाशीय बिजली गिरने से 60 फीट लम्बी दीवार ढह गई। मैनपुरी में रात भर बारिश का सिलसिला चला। सुबह से भी रिमझिम बरसात हो रही है। रात में आकाशीय बिजली गिरने से अजीतगंज क्षेत्र में 60 फीट लंबी दीवार ढह गई।

यहां के अजीतगंज निवासी राधाबल्लभ मिश्रा ने मैनपुरी कुसमरा मार्ग पर गांव के बाहर नये भवन का निर्माण कराया है। जिसकी पीछे की दीवार रात एक बजे आकाशीय बिजली गिरने से पलट गई। भवन में बने कमरे में रह रहे उपदेश एवं प्रवीन ने बमुश्किल बचायी जान। उपदेश कुमार ने बताया कि वे गहरी नींद में सो रहे थे। तभी अचानक बहुत तेज बिजली कड़कने की आवाज हुई। हम लोग कमरे से निकल कर भागे, कुछ समय बाद देखा तो पूरी दीवार पलटी पड़ी थी।

English News

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com