Breaking News

इस तरीके से आइस टी पीने पर सेहत को होता है नुकसान, जानिए इससे जुड़ी खास बातें …

गर्मी में प्यास और पेट को ठंडक देने के लिए कई लोग आइस टी पीते हैं। इस रिफ्रेशिंग ड्रिंक को पीने के फायदे तो खूब हैं लेकिन उसी के साथ इसे पीने के कुछ नुकसान भी हैं। अगर इसे आप बहुत ज्यादा मात्रा में पीते हैं तो हेल्थ को इससे कई तरह के नुकसान पहुंचते हैं। ऐसे में हम बता रहे हैं इससे जुड़ी कुछ बातें । सबसे पहले जानिए आइस टी के नुकसान।

आइस टी पीने के साइड इफेक्ट 

1) ज्यादा पीने से पहुंचता है नुकसान

आइस्ड टी के कुछ नुकसान भी हैं। जिसमें चिड़चिड़ापन, सिरदर्द, गुर्दे की पथरी और संभावित डायबिटीज संबंधित परेशानियां शामिल हैं। इनमें से ज्यादातर नुकसान बहुत ज्यादा आइस टी पीने या फिर इसमें शक्कर मिलाने के कारण से होते हैं। अगर आप इसके सभी हेल्थ बेनिफिट्स का फायदा लेना चाहते हैं तो आपको अपनी इस ड्रिंक में शक्कर को शामिल करने से बचना चाहिए ।

2) कैफीन की मात्रा से हो सकती है परेशानी

चाय और कॉफी में मौजूद कैफीन एनर्जी को बढ़ावा देता है, हालांकि कैफीन के कारण सोने में परेशानी, चिड़चिड़ापन, पेट खराब, सिरदर्द सहित परेशानियां हो सकती हैं। खासकर तब जब आप बहुत ज्यादा मात्रा में इस तरह के ड्रिंक को पीते हैं। इस चाय को मोडरेट मात्रा में पीने से आपको इन समस्याओं से बचने में मदद मिलेगी। 

3) डायबिटीज को होता है खतरा

बिना शक्कर वाली आइस टी आपके ब्लड शुगर के लेवल पर ज्यादा असर नहीं करती, जो डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए एक अच्छी बात है। हालांकि, अगर आप चाय में शक्कर मिला रहे हैं तो परेशानी हो सकती है। 

4) बढ़ सकती है किडनी की परेशानी

रिपोर्ट्स की मानें तो बहुत ज्यादा आइस टी पीने पर किडनी में पथरी की समस्या हो सकती है। चाय में ऑक्सालेट नाम का कंपाउंड होता है, जो शरीर में ऑक्सालिक एसिड बन जाते हैं और किडनी की पथरी और पित्त पथरी का कारण लबन सकते हैं। अगर आप पहले से पथरी की परेशानी से जूझ रहे हैं तो आपको इसे पीने से पहले डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

कैसे बनाएं आइस टी 

इसे बनाने के लिए सबसे पहले एक बर्तन में पानी गर्म करें। पानी उबल जाए तो आंच को कम करें और फिर इसमें बेसिक आइस टी डालें। कम से कम 10 से 12 मिनट के लिए इसे पकाएं और फिर आंच को बंद करें। इसे कुछ देर ठंडा होने दें और फिर इसमें शहद मिलाएं। इसी के साथ इसमें कुछ बर्फ के टुकड़े भी डालें। चाहें तो एक घंटे के लिए आइस टी को फ्रिज में रख सकते हैं। आइस टी सर्व करने से पहले इसमें नींबू के स्लाइस को शामिल करें।  

आइस टी पीने के गजब के फायदे 

वजन घटाने में करती है मदद  

आईस टी में कैलोरी की मात्रा कम होती हैं। इसी के साथ इसमें नैुचरल शुगर भी कम होती है, जो आपके वजन घटाने की कोशिशों में आपकी मदद कर सकती है, खासकर अगर आप मीठे सोडा और किसी दूसरी तरह के हैवी शुगर वाले ड्रिंक पीने के शौकीन हैं। यह आपकी रोजाना की कैलोरी काउंट को बढ़ाए बिना, आपको फ्रेश महसूस करने में भी मदद करता है।

इम्यून सिस्टम होता है बूस्ट

इस ड्रिंक में पाए जाने वाले एंटीऑक्सिडेंट और पोषक तत्व इम्यूनिटी को बूस्ट करने में मदद करने के लिए जाने जाते हैं। जिससे शरीर के संक्रमणों से बचाव करना आसान हो जाता है। आइस्ड टी के कुछ टाइप एस्कॉर्बिक एसिड (विटामिन सी) के साथ अपने मिश्रण को मजबूत करते हैं, जो इम्यूनिटी की ताकत को और बढ़ा सकते हैं।


हार्ट हेल्थ के लिए फायदेमंद 

इस चाय में मौजूद फ्लेवोनोइड्स अच्छे एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो ब्लड वैसल्स की सूजन को कम करके हार्ट हेल्थ सहित कई पुरानी स्थितियों को रोकने में मदद कर सकते हैं।

डायबिटीज में हो सकती है फायदेमंद

इसे पीने से टाइप 2 डायबिटीज के के खतरे को कम करके आपके बेहतर हेल्थ में मदद मिलती है, बस इस बात का ध्यान रखना है कि इसे बिना दूध या शक्कर मिलाए पिया जाए। यह आइस्ड टी को प्रीडायबिटीज वाले लोगों या डायबिटीज के जोखिम वाले लोगों के लिए एक अच्छा ऑप्शन है।

English News

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com