किडनी खराब होने के बाद शरीर में होते हैं इस तरह के बदलाव…

किडनी हमारे शरीर के सबसे महत्वपूर्ण अंग है। लेकिन आज की खराब लाइफस्टाइल और खानपान की वजह से आजकल किडनी खराब होने की समस्या आम बात हो गई है। सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि किडनी खराब होने के बाद हमारे शरीर में कई तरह के बदलाव होते हैं लेकिन हम इसे अक्सर इग्नोर कर देते हैं।

किडनी हमारे शरीर का महत्वपूर्ण अंग है ये तो आप जानते ही होंगे लेकिन आजकल के खानपान की वजह से लोगों में गंभीर बीमारियों के लक्षण पाए गए है। हमारे शरीर में दो किडनी होती है जिसमे से अगर एक खराब भी हो जाए तो दूसरी किडनी इंसान को बचाए रखती है। वैसे ये एक तरफ जहां खुशखबरी की बार भी है वहीँ इस एक किडनी पर जिन्दा रहने वाले इंसान की जिंदगी पर क्या असर पड़ता है इस बात से आप शायद अनजान होंगे।

आपको बता दें की एक किडनी इंसान को जिन्दा तो रखती है पर इंसान के शरीर की काम करने की क्षमता पहले से आधी हो जाती है। दो किडनियों के बल पर शरीर जितना स्वस्थ होता है एक किडनी की तुलना में काफी कमजोर हो जाता है। आज हम आपको बता रहे है की किडनी खराब होने से पहले आप कैसे जान सकते है की आपकी किडनी की कार्य करने की क्षमता क्षीण होती जा रही है।

हमारा शरीर कुछ ऐसे ख़ास लक्षण पहले से ही दिखाने लगता है जो इस बात की तरफ इशारा करते है की हमे अपनी किडनी की ज्यादा देखभाल की जरुरत है।

शरीर में थकान होना: दोस्तो किडनी शरीर में हिमोग्लोबिन की मात्रा को बैलेंस रखता है। लेकिन जब ऐसा नहीं हो पाता है तो खून की कमी हो जाती है जिससे शरीर में थकान भी महसूस होती है।

सूजन होना और वजन बढ़ना: जब हमारे शरीर से विषैले पदार्थ बाहर नहीं निकल पाते है तो ये उत्तको में जमा हो जाती है जिससे शरीर में सूजन आ जाती है और वजन भी बढ़ने लगता है।

पेशाब में यूरिन कम आना: जब हमारे शरीर से विषैले पदार्थ पेशाब से भी बाहर निकलते हैं और जब पेशाब में कम यूरिन निकलता है तो इसका मतलब किडनी सही से काम नहीं कर रही है।

भूख कम लगना: दोस्तो किडनी का मुख्य काम शरीर से विषैले पदार्थ को बहार निकालना होता है। जब शरीर से यह पदार्थ बाहर नहीं निकल पाता है तो बहुत से विषैले पदार्थ जमा हो जाते हैं जिससे भूख कम लगती है।

You May Also Like

English News