क्या आप जानते है की कुछ पुरानी आदतों को फिर अपनाने से पा सकते है बेहतर हेल्थ

दिन भर की भाग दौड़ के कारण हमने हमारी दिनचर्या को पूरी तरह से बदल दिया है. बदलते वक्त के कारण भी हमने खुद ही अपने हाथो से कई समस्याओ के समाधान को छोड़ दिया है. थकान इतनी होती है की सुबह उठते ही बिस्तर पर चाय पीना सबसे आरामदायक लगता है और इसे हम बेड टी कहके खुश होते है. किन्तु यही सुख बड़े दुःख का कारण भी बन जाता है.क्या आप जानते है की कुछ पुरानी आदतों को फिर अपनाने से पा सकते है बेहतर हेल्थयह भी पढ़े: कैंसर की बीमारी में बहुत फायदेमंद होता है पालक का जूस, जानिये इसके लाभ..

बिस्तर में मौजूद बैक्टीरिया व्यक्ति को बीमार बना सकते है. जो लोग सुबह देर तक सोते है, उन्हें देर से उठने की आदत को बदलना चाहिए. देर से उठने की आदत कई बीमारियों को दावत देती है. आप का काम बेहतर हो, स्वास्थ्य बेहतर रहे इसलिए पूरी नींद ले. अक्सर कई लोगो के शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी पाई जाती है.

पुराने ज़माने में ऐसा नहीं होता था. उस समय लोहे के बर्तनो में खाना खाया जाता था जिससे लौह तत्व की मात्रा बढ़ती थी. लोहे के बर्तनों में भोजन करने से शरीर में कोई हानिकारक प्रभाव नहीं पड़ता है. इससे हिमोग्लोबिन का स्तर ठीक रहता है व पाचन संबंधित समस्या खत्म हो जाती हैं.

लोहे के अलावा मिट्टी के बर्तन भी बेहद उपयोगी होते है. मिट्टी के बर्तन में दाल 25 मिनट के अंदर धीमी आंच पर पक जाती है. इसलिए दाल को मिट्टी के बर्तन में पकने के लिए रखकर घर का काम करते रहिए. एक बार मिट्टी की हांड़ी में पकी दाल खाकर देखिए यह इतनी स्वादिष्ट और पौष्टिक होती है कि आप इस स्वाद को कभी, भूल नहीं पाएंगे. इसी तरह मिट्‌टी के तवे पर बनी रोटी व मटके का पानी न सिर्फ स्वादिष्ट होता है, बल्कि आपको जीवन भर स्वस्थ बनाए रखता है. साथ ही यह भी कोशिश करे कि खाना नहाने के बाद खाये.

You May Also Like

English News