क्या सिर्फ एक दिन ‘पर्यावरण दिवस’ मनाने से प्रकृति हो सकती हैं सुरक्षित?

इस विशालकाय दुनिया में प्रकृति से छेड़छाड़ करना बिलकुल मना हैं. सालभर में एक दिन प्रकृति को समर्पित किया जाता है और उस दिन को विश्व पर्यावरण दिवस के रूप में मनाया जाता है. दुनियाभर में इस दिन का एक खास महत्व होता है. ये बात तो सभी जानते ही है कि प्रकृति और जीवन का एक अटूट बंधन है. यदि प्रकृति है तो जीवन है और अगर इसके साथ ही छेड़खानी कर दी गई तो हमारा जीवन भी खतरे में आ जाएगा.इस विशालकाय दुनिया में प्रकृति से छेड़छाड़ करना बिलकुल मना हैं. सालभर में एक दिन प्रकृति को समर्पित किया जाता है और उस दिन को विश्व पर्यावरण दिवस के रूप में मनाया जाता है. दुनियाभर में इस दिन का एक खास महत्व होता है. ये बात तो सभी जानते ही है कि प्रकृति और जीवन का एक अटूट बंधन है. यदि प्रकृति है तो जीवन है और अगर इसके साथ ही छेड़खानी कर दी गई तो हमारा जीवन भी खतरे में आ जाएगा.  प्रकृति का संरक्षण, संवर्धन और विकास करना बेहद जरुरी है और ये किसी एक दिन नहीं बल्कि साल के पुरे 365 दिन करना चाहिए लेकिन फिर भी हम लोगों ने प्रकृति के लिए एक दिन निर्धारित कर दिया है. इस दिन सभी लोग मिलकर प्रकृति को सुरक्षित रखने के संकल्प लेते है. लेकिन असल में इस संकल्प को लेने की कोई आवश्यकता नहीं है क्योकि अपने जीवन को बचने के लिए प्रकृति की सुरक्षा करना तो सभी के लिए बहुत जरुरी है.  जल, हवा, थल सभी को शुद्ध रखना बहुत जरुरी है क्योकि इनके जरिये ही हमारा जीवन संभव है. बाकी दिन पेड़ काटकर और सिर्फ पर्यावरण दिवस पर मात्रा दिखावे के लिए पेड़ लगाने से काम नहीं चलता है यदि आपको असल में अपनी प्रकृति को स्वस्थ रखना है तो आपको हर दिन एक पेड़ लगाने की जरूरत है.

प्रकृति का संरक्षण, संवर्धन और विकास करना बेहद जरुरी है और ये किसी एक दिन नहीं बल्कि साल के पुरे 365 दिन करना चाहिए लेकिन फिर भी हम लोगों ने प्रकृति के लिए एक दिन निर्धारित कर दिया है. इस दिन सभी लोग मिलकर प्रकृति को सुरक्षित रखने के संकल्प लेते है. लेकिन असल में इस संकल्प को लेने की कोई आवश्यकता नहीं है क्योकि अपने जीवन को बचने के लिए प्रकृति की सुरक्षा करना तो सभी के लिए बहुत जरुरी है.

जल, हवा, थल सभी को शुद्ध रखना बहुत जरुरी है क्योकि इनके जरिये ही हमारा जीवन संभव है. बाकी दिन पेड़ काटकर और सिर्फ पर्यावरण दिवस पर मात्रा दिखावे के लिए पेड़ लगाने से काम नहीं चलता है यदि आपको असल में अपनी प्रकृति को स्वस्थ रखना है तो आपको हर दिन एक पेड़ लगाने की जरूरत है.

You May Also Like

English News