जडेजा के पहले चार टेस्ट मैच में न खेलने से खुश है इंग्लैंड की टीम, जानिए क्यों हैं ऐसा?

 इंग्लैंड के सहायक कोच पॉल फारब्रास ने कहा कि भारत का रविंद्र जडेजा बेहतरीन क्रिकेटर है और उन्हें खुशी है कि वह सिर्फ पांचवां और आखिरी टेस्ट खेला। जडेजा ने आठवें नंबर पर उतरकर नौवां अर्धशतक जमाते हुए भारत को पहली पारी में छह विकेट पर 160 रन से 292 रन तक पहुंचाया।

फारब्रास ने कहा, ‘उसकी साझेदारी बनने से पहले उसे एक जीवनदान मिला। उसने इसका पूरा फायदा उठाते हुए शानदार पारी खेली। वह काफी प्रतिभाशाली और खतरनाक क्रिकेटर है। हमें खुश होना चाहिए कि वह आखिरी ही मैच में खेला।’

आपको बता दें कि ओवल टेस्ट की पहली पारी में जडेजा ने नाबाद 86 रन की पारी खेली थी। पहली पारी में भारत की ओर से जडेजा और हनुमा विहारी (56) ने अर्धशतक जड़े और कप्तान कोहली 49 रन पर आउट हो गए थे। जडेजा ने अपने अर्धशतक का जश्न अपने जाने-माने अंदाज़ में मनाया। उन्होंने बल्ले से तलवारबाज़ी करते हुए अपने नौवें अर्धशतक का जश्न मनाया।

कोच ने कहा कि क्रिकेटप्रेमियों और इंग्लैंड के क्रिकेट समुदाय को उम्मीद होगी कि एलिस्टेयर कुक अपनी आखिरी टेस्ट पारी में शतक जमाए। उन्होंने कहा, ‘अगर वह शतक जमा पाता है तो यह शानदार होगा। वह दर्शकों से मिल रहे प्यार का लुत्फ ले रहा है और लंबी पारी खेलना चाहेगा।

You May Also Like

English News