”जादू नहीं है सत्तर साल के कार्यों को कुछ वक्त में कर दूं”

विवादित बयान देने के लिए एक अलग पहचान बना चुके राजस्थान के गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया ने एक महिला की मौत के मामले में फिर उटपटांग बाटे कर दी है. गृहमंत्री कटारिया ने कहा कि सरकार हर जगह सड़क नहीं बना सकती. उन्होंने कहा कि जो काम सत्तर सालों में नहीं हुआ वह काम वे कुछ दिनों में कैसे कर देंगे.विवादित बयान देने के लिए एक अलग पहचान बना चुके राजस्थान के गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया ने एक महिला की मौत के मामले में फिर उटपटांग बाटे कर दी है. गृहमंत्री कटारिया ने कहा कि सरकार हर जगह सड़क नहीं बना सकती. उन्होंने कहा कि जो काम सत्तर सालों में नहीं हुआ वह काम वे कुछ दिनों में कैसे कर देंगे.  पीएम ने कहा, 70 साल से किसानों को वादों में उलझा कर रखा एक परिवार ने  मामला उदयपुर के नजदीक सराड़ा गांव का है जहा एक महिला की मौत सर्पदंश से हो गई . गांव तक जानें का रास्ता कच्चा है और ग्रामीण इस बात से नाराज है कि वहां से कोई भी वाहन नहीं जा सकता था ऐसे में महिला को उपचार के लिए करीब चार किलोमीटर पगडंडी के जरिए खाट पर लाना पड़ा और यही वो समय था जब उसका उपचार कर लिया जाना था. बाद में महिला की मौत हो गई थी.  जन-संवाद के लिए पीएम आज जयपुर की धरती पर  इस मामले में सूबे के गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया विभागों की लापरवाही मानने की बजाय पूर्ववर्ती सरकार पर इस मौत का ठीकरा फोड़ रहे है. कटारिया ने कहा कि उनके पास कोई जादू की छड़ी नहीं है जो सत्तर साल से नहीं हुए कार्यों को कुछ वक्त में कर दूंगा. कटारिया ने कहा कि अगर को इंसान यह कहे कि उसको सांप ने काट लिया है और वहां सड़क नहीं है, जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई है तो यह बहुत बेतूका है. गुलाबचंद कटारिया ने इस पूरे मामले पर ग्रामीणों के विरोध को लेकर कहा कि हर चीज पर नकारात्मक बात करना ठीक नहीं है, हमें सकारात्मक पहलुओं को भी देखना चाहिए.

मामला उदयपुर के नजदीक सराड़ा गांव का है जहा एक महिला की मौत सर्पदंश से हो गई . गांव तक जानें का रास्ता कच्चा है और ग्रामीण इस बात से नाराज है कि वहां से कोई भी वाहन नहीं जा सकता था ऐसे में महिला को उपचार के लिए करीब चार किलोमीटर पगडंडी के जरिए खाट पर लाना पड़ा और यही वो समय था जब उसका उपचार कर लिया जाना था. बाद में महिला की मौत हो गई थी.

इस मामले में सूबे के गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया विभागों की लापरवाही मानने की बजाय पूर्ववर्ती सरकार पर इस मौत का ठीकरा फोड़ रहे है. कटारिया ने कहा कि उनके पास कोई जादू की छड़ी नहीं है जो सत्तर साल से नहीं हुए कार्यों को कुछ वक्त में कर दूंगा. कटारिया ने कहा कि अगर को इंसान यह कहे कि उसको सांप ने काट लिया है और वहां सड़क नहीं है, जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई है तो यह बहुत बेतूका है. गुलाबचंद कटारिया ने इस पूरे मामले पर ग्रामीणों के विरोध को लेकर कहा कि हर चीज पर नकारात्मक बात करना ठीक नहीं है, हमें सकारात्मक पहलुओं को भी देखना चाहिए.

English News

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com