जानिए कैसे: केसर और दूध के मिश्रण से दिल सारी बीमारी होती है दूर…

केसर दुनिया के सबसे महंगे मसालों में से एक है

दिल के स्वास्थ्य पर केसर का बहुत सकारात्मक प्रभाव पड़ता हैं

एंटी-इनफ्लैमटरी और एंटी-ऑक्सीडेटिव तत्वों को बढ़ावा देते हैं केसर और दूध के मिश्रण से दिल सारी बीमारी होती है दूरअगर चाय पीने के बाद आपको होती है खतनाक एसिडिटी, तो जल्द ही ये टिप्स अपनाएं…

कहते हैं कि केसर अगर दूध के साथ ले लिया जाए, तो वह आपको कई स्वास्थ्य संबंधी फायदे पहुंचा सकता है। केसर दुनिया के सबसे महंगे मसालों में से एक है। ये कोई साधारण मसाला नहीं, बल्कि शाही मसाला है जिसका इस्तेमाल भारत के प्राचीन राजघरानों में तब भी किया जाता था। इसका चटख रंग, तेज़ खुशबू, गर्माहट और स्वाद के कारण इसे कई पकवानों की जान बना देता है। केसर सिर्फ ज़ायके और रंग के लिए ही नहीं, स्वास्थ्य के लिए भी बहुत अच्छा है। ख़ासतौर पर, दिल के स्वास्थ्य पर केसर का बहुत सकारात्मक प्रभाव पड़ता हैं।

इसलिए दिल के लिए है केसर वाला दूध बेस्ट

केसर में केरोटेनॉइड्स होते हैं जो एंटी-इनफ्लैमटरी और एंटी-ऑक्सीडेटिव तत्वों को बढ़ावा देते हैं। ऐसा ही एक केरोटेनॉइड क्रोसेटिन है, जो केसर में सबसे अधिक मात्रा में मौजूद रहता है। दिल को सेहतमंद बनाए रखने के लिए क्रोसेटिन विशेष भूमिका निभाता है। ये तत्व शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ाते हैं। इनकी मदद से खून में कोलेस्ट्रॉल लेवल कम होता है, जिसकी वजह से कॉलेस्ट्रॉल धमनियों में जमा नहीं होता। इससे हार्ट अटैक का जोखिम घटता है, क्योंकि धमनियों में ठीक प्रकार से खून का संचार होता है। ब्लड प्रेशर भी कंट्रोल में रहता है।

इस तरह करें इस्तेमाल

केसर बहुत महंगा होता है, इसी वजह से इसका इस्तेमाल हर घर में नहीं होता। लेकिन अगर आप थोड़ा महंगा केसर अपनी किचन का हिस्सा बना लें तो आपकी सेहत को इससे काफी फायदे हो सकते हैं। एक चुटकी केसर को दूध में मिलाकर पीने से न सिर्फ आपका दिल सेहतमंद रहेगा बल्कि हाइपरटेंशन और कोलेस्ट्रॉल जैसी समस्याओं से भी राहत मिलेगा। केसर का इस्तेमाल डेज़र्ट यानी कुछ ख़ास मीठी डिश और मुग़लई खाने में भी किया जाता है। हालांकि इसका इस्तेमाल करते हुए ध्यान रखें कि कम मात्रा में ही इसका सेवन किया जाए क्योंकि शरीर पर इसके कुछ नकारात्मक प्रभाव भी पड़ सकते हैं।

You May Also Like

English News