जालौन में बदमाशों ने सोते ग्रामीणों पर दागी गोलियां, दो की मौत-तीन घायल

आटा थाना क्षेत्र के ग्राम संदी में बुधवार सुबह 4 बजे बदमाशों ने सोते हुए लोगों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। गोली लगने से महिला समेत दो की मौत हो गई है, जबकि तीन लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। वारदात के बाद गांव में दहशत का माहौल है। कई थानों का फोर्स वहां तैनात किया गया है। जिले के एसपी व एएसपी के अलावा परिक्षेत्र के डीआईजी ने भी घटनास्थल का मुआयना किया। किस रंजिश के चलते गांव में खूनी खेल खेला गया अभी तक यह पता नहीं चला है। कई संदिग्ध लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।आटा थाना क्षेत्र के ग्राम संदी में बुधवार सुबह 4 बजे बदमाशों ने सोते हुए लोगों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। गोली लगने से महिला समेत दो की मौत हो गई है, जबकि तीन लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। वारदात के बाद गांव में दहशत का माहौल है। कई थानों का फोर्स वहां तैनात किया गया है। जिले के एसपी व एएसपी के अलावा परिक्षेत्र के डीआईजी ने भी घटनास्थल का मुआयना किया। किस रंजिश के चलते गांव में खूनी खेल खेला गया अभी तक यह पता नहीं चला है। कई संदिग्ध लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है। बुधवार सुबह संदी गांव ताबड़तोड़ फायरिंग से गूंज उठा। असलहाधारियों ने दहशत फैलाते हुए राह चलते फायरिंग शुरू दी। घरों के बारामदों में चारपाई डालकर सो रहे जिस भी व्यक्ति ने भी उन्हें टोकने व शोर मचाने की कोशिश की बदमाशों ने उन पर निशाना साधते हुए गोली मार दी। गोली लगने से जयदेवी (50) पत्नी रामफल व अजाद (65) पुत्र जुम्मन की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि बाला (60) पुत्र बद्री, जीशान (40) पुत्र मुख्तियार व भूरे (25) पुत्र सोबरन गंभीर रूप से घायल हो गए।   हालात ऐसे थे जैसे बदमाश किसी प्रतिशोध के चलते नरसंहार करने पर उतारू हैं। वारदात की सूचना मिलने के बाद आटा थानाध्यक्ष आनंद कुमार सिंह फोर्स के साथ गांव पहुंचे। मौके का खौफनाक मंजर देख पुलिस वालों के भी रोंगटे खड़े हो गए। गोली लगने से मृत हुए दो लोगों के शव खून से लथपथ हालत में जमीन पर पड़े हुए थे, जबकि कई गोलियां लगने से घायल तीन लोग मरणासन्न हालत में पड़े थे।   जालौन में बुंदेलखंड विश्वविद्यालय परीक्षा केंद्र पर बवाल, पथराव यह भी पढ़ें आनन फानन उनको उपचार के लिए जिला अस्पताल लाया गया। बाद में नाजुक स्थिति को देखते हुए उन्हें कानपुर के लिए रेफर कर दिया गया है। पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र प्रसाद सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र नाथ तिवारी भी मौका-ए-वारदात पर पहुंच गए। हैरत की बात यह है कि अभी तक की जांच में यह पता नहीं चला है कि किस रंजिश के चलते हमलावरों ने खौफनाक घटना को अंजाम दिया है।  डीआईजी सुभाष बघेल ने गांव पहुंचकर छानबीन की और ग्रामीणों के बयान दर्ज किए। उन्होंने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिया जल्द से जल्द इस घटना का पर्दाफास कर हत्यारों को गिरफ्तार किया जाए। गांव में डर का माहौल है, लिहाजा वहां कई थानों का फोर्स तैनात किया गया है। घटनास्थल पर कारतूस के कई खोखे मिले हैं। जिससे लगता है कि करीब पचास राउंड फायरिंग बदमाशों द्वारा की गई है।
बुधवार सुबह संदी गांव ताबड़तोड़ फायरिंग से गूंज उठा। असलहाधारियों ने दहशत फैलाते हुए राह चलते फायरिंग शुरू दी। घरों के बारामदों में चारपाई डालकर सो रहे जिस भी व्यक्ति ने भी उन्हें टोकने व शोर मचाने की कोशिश की बदमाशों ने उन पर निशाना साधते हुए गोली मार दी। गोली लगने से जयदेवी (50) पत्नी रामफल व अजाद (65) पुत्र जुम्मन की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि बाला (60) पुत्र बद्री, जीशान (40) पुत्र मुख्तियार व भूरे (25) पुत्र सोबरन गंभीर रूप से घायल हो गए।

हालात ऐसे थे जैसे बदमाश किसी प्रतिशोध के चलते नरसंहार करने पर उतारू हैं। वारदात की सूचना मिलने के बाद आटा थानाध्यक्ष आनंद कुमार सिंह फोर्स के साथ गांव पहुंचे। मौके का खौफनाक मंजर देख पुलिस वालों के भी रोंगटे खड़े हो गए। गोली लगने से मृत हुए दो लोगों के शव खून से लथपथ हालत में जमीन पर पड़े हुए थे, जबकि कई गोलियां लगने से घायल तीन लोग मरणासन्न हालत में पड़े थे।

आनन फानन उनको उपचार के लिए जिला अस्पताल लाया गया। बाद में नाजुक स्थिति को देखते हुए उन्हें कानपुर के लिए रेफर कर दिया गया है। पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र प्रसाद सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र नाथ तिवारी भी मौका-ए-वारदात पर पहुंच गए। हैरत की बात यह है कि अभी तक की जांच में यह पता नहीं चला है कि किस रंजिश के चलते हमलावरों ने खौफनाक घटना को अंजाम दिया है।

डीआईजी सुभाष बघेल ने गांव पहुंचकर छानबीन की और ग्रामीणों के बयान दर्ज किए। उन्होंने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिया जल्द से जल्द इस घटना का पर्दाफास कर हत्यारों को गिरफ्तार किया जाए। गांव में डर का माहौल है, लिहाजा वहां कई थानों का फोर्स तैनात किया गया है। घटनास्थल पर कारतूस के कई खोखे मिले हैं। जिससे लगता है कि करीब पचास राउंड फायरिंग बदमाशों द्वारा की गई है।

You May Also Like

English News