जाॅनिए दही के दस फायदे

दही भारतीय भोजन में आवश्यक माना जाता है. इसकी वजह ये नहीं की दही बेहद लजीज होता है बल्कि इसमें बहुत से पौष्टिक तत्व होते है जैसे कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन. इसके अतिरिक्त दही में प्रोटीन, लैक्टोज, आयरन, फास्फोरस भी भरपूर मात्रा में पाये जाते है जो हमे चुस्त और तंदरुस्त बनाये रखने में मदद करता है.जाॅनिए दही के दस फायदे

दही के लाभ
भारतीय भोजन का अभिन्न अंग दही स्वाद ही नहीं सेहत के दृष्टि से भी लाभदायक है. जो शरीर को रोगमुक्त बनाने में मददगार होता है. दही में कई प्रकार के पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं जो स्वास्थ के लिए अच्छे होते है. दही में कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन की उपस्तिथि रहती है. इसके अलावा दही में प्रोटीन, लैक्टोज, आयरन, फास्फोरस भी पाये जाते है आइए जानें कि दही किस तरह हमे अच्छी हेल्थ देने में सहायक है.

तनाव से रखे दूर
आज कल की ज़िन्दगी में हर कोई तनाव से गुजर रहा है ऐसे में दही का सेवन उन्हें तनाव से दूर रख सकता है. यूसीएलए (यूनविर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, लॉस एंजिलिस) स्‍कूल ऑफ मेडिसीन में हुए एक ताजा अध्‍ययन के आधार पर दही का इस्‍तेमाल तनाव और चिंता जैसी खतरनाक मानसिक बीमारियों को आपसे दूर रखने में मदद करता है. अध्ययन के अनुसार दही में मौजूद प्रोबायोटिक मस्तिष्‍क पर असर करता है जिससे अवसाद की समस्या से निजात मिलता है.

दिल के बीमारियो से रखे दूर.
दही रक्त में बनने वाले कोलेस्ट्रोल की वृद्धि को रोकता है, डॉक्टरों के अनुसार दही के नियमित सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा को घटाया जा सकता है जिससे ब्लड सर्कुलेशन प्रभावित नहीं होता है और दिल की धड़कने सामान्य रहती है.

हड्डियों में लाये मजबूती
दही में कैल्शियम बहुत अधिक होता है जो हड्डियों को मजबूत करता है.  दही खाने से दांत भी मजबूत होते हैं. दही ऑस्टियोपोरोसिस (जोडों की बीमारी) जैसी बीमारी से लड़ने के लिए भी लाभदायक है.

पेट की बीमारियों को को दूर करने सहायक
दही में बॅक्टेरिया होते है जो स्वास्थ के लिए अच्छे होते है. इन बैक्टीरिया से पेट की बीमारिया दूर रहती है. दही पाचन क्षमता में वृद्धि करता है और भूख बढ़ाने में मदद भी करता है.

लैक्टोज असहिष्णु लोगों के लिए दही है बेहतर
कुछ लोग लैक्टोज पसंद नहीं होने के कारण दही का सेवन नहीं करते है. वे लोग भी आसानी से दही को उपभोग कर सकते है. ये लैक्टोज एसिड को लैक्टिक में परिवर्तित करके पाचन क्षमता को सही रखता है.यह दूध की सारी शक्ति अपने अंदर रखता है.

वजन घटाने में भी कारगर
वजन कम करने के लिए डाइट में दही को भी शामिल करने की सलाह दी थी. दही में मौजूद कैल्शियम की मात्रा शरीर को अधिक कोर्टिसोल पंप करने से रोकता है. कोर्टिसोल काफी बीमारियो को दूर रखता है जैसे हार्मोनल असंतुलन उच्च रक्तचाप, मोटापा और कोलेस्ट्रॉल आदि.

इम्‍यूनिटी बढ़ाये
अमेरिकन जर्नल ऑफ क्‍लीनिकल न्‍यूट्रीशन ने बताया कि, दही में उपस्थित बैक्टीरिया के समर्थक जैविक उपभेद प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने और संक्रमण, सूजन रोग, और एलर्जी की समस्‍याओं को ख़त्म करने के लिए काफी अच्छा रहता है.

योनि संक्रमण से बचाव
मधुमेह से प‍ीड़‍ित महिलाओं में कैंडिडा के कारण योनि में संक्रमण के समस्या रहती है. इसके सेवन से संक्रमण को कम किया जा सकता है. दही के सेवन से योन‍ि पथ का पीएच का स्‍तर कम होता है जो योनि संक्रमण से बचाता है.

सांसों की बदबू को करे कंट्रोल
दही सांसों के बदबू को दूर करने का प्राकृतिक घरेलु उपचार है. दही के सेवन से शरीर में सल्फाइट नामक तत्व कम बनता है. जो साँसों की बदबू को कम करता है

You May Also Like

English News