डेविड वार्नर-शायद में ऑस्ट्रेलिया के लिए अब कभी ना खेल सकूँ

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के पूर्व उपकप्तान डेविड वॉर्नर ने बॉल टैंपरिंग मामले में माफी मांगी है. सिडनी में शनिवार सुबह हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में वॉर्नर ने नम आंखों से साउथ अफ्रीका के खिलाफ न्यू लैंड्स टेस्ट में हुई बॉल टैंपरिंग के लिए खेद जताया. उन्होंने हालांकि खेल से रिटायरमेंट की संभावना से इनकार कर दिया और साथ ही शपथ ली कि वह ऑस्ट्रेलियाई पब्लिक से माफी मांगने के लिए कुछ भी करने को तैयार हैं.डेविड वार्नर-शायद में ऑस्ट्रेलिया के लिए अब कभी ना खेल सकूँउन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि वह 12 महीने के प्रतिबंध के बाद एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया के लिए खेलेंगे. उन्होंने साथ ही कहा, ‘मेरे दिमाग में कहीं न कहीं यह बात यह है कि एक दिन फिर मुझे अपने देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिलेगा, लेकिन हो सकता है कि शायद वह दिन अब कभी न आए. बॉल टैंपरिंग मामले में वॉर्नर को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था. इसके साथ ही उन पर 12 महीने का प्रतिबंध भी लगा दिया गया. इसके अलावा वॉर्नर को इंडियन प्रीमियर लीग सनराइजर्स हैदराबाद की कप्तानी से हटना पड़ा था.

इसके साथ ही सलामी बल्लेबाज कैमरन ब्रैनक्रॉफ्ट को भी 9 महीने के लिए सस्पेंड कर दिया गया. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने यह भी साफ किया कि डेविड वॉर्नर को कभी भी ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तान नहीं बनाया जाएगा. पूरी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान वॉर्नर लगातार माफी मांगते रहे. बॉल टैंपरिंग विवाद के बाद वॉर्नर पहली बार मीडिया के सामने आए. उन्होंने कहा, ‘सभी ऑस्ट्रेलियाई नागरिक, भले ही आप क्रिकेट फैन हों अथवा नहीं, मैं आप सबसे अपने काम से देश की प्रतिष्ठा को हुए नुकसान के लिए माफी मांगता हूं मैं क्रिकेट के जरिए अपने देश के लिए सम्मान अर्जित करना चाहता था’ उन्होंने कहा कि बतौर उपकप्तान वह अपनी जिम्मेदारियां निभाने में नाकाम रहे.

You May Also Like

English News