दिल्ली से धरे गए ISJK के दो आतंकी, स्पेशल सेल ने हथियारों के साथ किया गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इस्लामिक ग्रुप ऑफ जम्मू-कश्मीर से जुड़े दो आतंकियों की एक बड़ी साजिश को नाकाम करते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। इनकी गिरफ्तारी बृहस्पतिवार रात लाल किले के पास जामा मस्जिद बस अड्डे। गिरफ्तार दोनों आतंकी परवेज राशिद और जमशेद जहूर मूलरूप से जम्मू कश्मीर के रहने वाले हैं और इस्लामिक ग्रुप ऑफ जम्मू-कश्मीर से जुड़े हैं। 

कश्मीर जाने की फिराक में थे आतंकी 
स्पेशल सेल के डीसीपी ने बताया कि दिल्ली पुलिस स्पेशल टीम ने कल रात दो आतंकवादियों को लाल किले के पास जामा मस्जिद बस स्टॉप से गिरफ्तार किया था। आतंकियों के पास से दो पिस्टल, दस कारतूस और चार मोबाइल फोन बरामद किए गए हैं।

आतंकियों ने यूपी से हथियार प्राप्त किए थे और कश्मीर जा रहे थे। हथियारों का इस्तेमाल आतंकवादी गतिविधियों के लिए किया जाना था। डीसीपी ने बताया कि हमने परवेज और जमशेद को गिरफ्तार किया है। ये ISJK नाम के संगठन के सदस्य हैं। परवेज का भाई जनवरी में सुरक्षा बलों की कार्रवाई के दौरान मारा गया था। शुरूआत में वह हिज्ब-उल-मुजाहिदीन का सदस्य था लेकिन बाद में वह ISJK में शामिल हो गया था।

पहले ही जारी किया गया था अलर्ट 

यहां पर बता दें कि खूफिया एजेंसियों ने देश में आतंकी गतिविधियों को लेकर गृह मंत्रालय और पुलिस को अलर्ट जारी किया था। खासकर 15 अगस्त पर आतंकियों द्वारा किसी तरह की घटना को अंजाम देने की आशंका को देखते हुए भी राजधानी में कड़ी सुरक्षा के प्रबंध किए गए थे। इस बाबत दिल्ली-एनसीआर में सुरक्षा एजेंसिया अलर्ट पर थीं।

आतंकियों के निशाने पर दिल्ली 

दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक की मानें तो देश की राजधानी होने की वजह से दिल्ली हमेशा आतंकियों के निशाने पर रहती है। दिल्ली पुलिस आयुक्त के मुताबिक, दिल्ली में हमेशा आतंकी हमले के इनपुट रहते हैं। दिसंबर, 2017 में जैश-ए-मोहम्मद बड़े हमले की धमकी दे चुका है। दिल्ली पुलिस के मुताबिक, आतंकी घटनाओं को रोकने के लिए सभी कदम उठाने जा रहे हैं।

आतंकियों के निशाने पर हो सकती है दिल्ली मेट्रो
दिल्ली मेट्रो भी आतंकियों के निशाने पर है। दिल्ली-एनसीआर की लाइफलाइन कही जाने वाली मेट्रो पर आतंकी हमला हो सकता है। तकरीबन दो साल पहले संसद की एक स्थायी समिति ने दिल्ली मेट्रो पर आतंकी हमले की आशंका जताई थी।

गृह मंत्रालय से जुड़ी संसद की स्थायी समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा बढ़ाए जाने की सख्त जरूरत है ताकि किसी भी आतंकी हमले से निपटा जा सके। तब समिति ने कहा था कि मेट्रो स्टेशनों पर दिल्ली पुलिस की तैनाती को बढ़ाया जाना चाहिए ताकि मेट्रो स्टेशनों की सुरक्षा को और ज्यादा चुस्त दुरुस्त बनाया जा सके। फिलहाल दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा मुख्य रूप से सीआईएसएफ के जिम्मे है।

You May Also Like

English News