पनामा से लेकर मनी लॉड्रिंग और टैक्स चोरी में नवाज शरीफ का नाम, ये हैं आरोप

भ्रष्टाचार के मामले में दोषी करार दिए गए पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ शुक्रवार शाम को पाकिस्तान लौट रहे हैं. नवाज और उनकी बेटी मरियम को गिरफ्तार कर लाहौर लाया जा रहा है. आय से अधिक संपत्ति और भ्रष्टाचार के गंभीर मामलों में नवाज को 10 साल और मरियम को 7 साल की सजा सुनाई गई है.भ्रष्टाचार के मामले में दोषी करार दिए गए पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ शुक्रवार शाम को पाकिस्तान लौट रहे हैं. नवाज और उनकी बेटी मरियम को गिरफ्तार कर लाहौर लाया जा रहा है. आय से अधिक संपत्ति और भ्रष्टाचार के गंभीर मामलों में नवाज को 10 साल और मरियम को 7 साल की सजा सुनाई गई है.  पनामा केस में पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने नवाज शरीफ को दोषी करार दिया गया था. इसके बाद पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) को नवाज पर केस दायर करने का आदेश दिया था. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ही नवाज शरीफ ने प्रधानमंत्री का पद छोड़ दिया था और वह अपनी बीमार पत्नी के इलाज के लिए लंदन चले गए थे.  दामाद-बेटे पर भी आरोप  नवाज शरीफ को आजीवन चुनाव लड़ने से प्रतिबंधित किया गया है और वह किसी सार्वजनिक पद पर नहीं बैठ पाएंगे. वहीं उनकी बेटी मरियम शरीफ भी अब चुनाव नहीं लड़ पाएंगी. अदालत ने नवाज के दामाद को भी जेल की सजा सुनाई है और उनके 2 बेटों को भगोड़ा घोषित कर दिया.  शरीफ के परिवार के विदेश में संपत्ति अर्जित करने के आरोपों की जांच के लिए संयुक्त जांच दल का गठन किया गया था और जेआईटी ने अपनी रिपोर्ट अदालत को सौंप दी थी. रिपोर्ट में कहा गया था कि शरीफ और उनके बच्चों का रहन-सहन उनके आय के ज्ञात स्रोत के मुताबिक नहीं है. रिपोर्ट में उनके खिलाफ भ्रष्टाचार का नया मामला दर्ज करने का सुझाव दिया गया था.  नवाज परिवार पर पनामा में मनी लॉन्ड्रिंग करके पैसा जमाना करने और विदेश में संपत्ति बनाने का आरोप है. नवाज शरीफ की संतानों के पास विदेश की कई कंपनियों का स्वामित्व भी हैं. पनामा का यह मामला 1990 के दशक का है, जब नवाज शरीफ प्रधानमंत्री थे. हालांकि यह खुलासा साल 2016 में हुआ था.  विदेश में अकूत संपत्ति  पूर्व पीएम नवाज शरीफ के परिवार ने विदेश में भारी भरकम निवेश कर रखा है. उनकी बेटी मरियम को लंदन के पॉश इलाके एवेनफील्ड में काली कमाई से आलीशान फ्लैट खरीदने के मामले में ही सजा सुनाई गई है. उन पर इन फ्लैट्स को खरीदने के लिए पिता को उकसाने का आरोप है. इसके अलावा नवाज पर प्रधानमंत्री रहने के दौरान भारत में 4.9 अरब डॉलर जमा करने का भी आरोप है.  शरीफ के खिलाफ तीन मामले  पनामा पेपर लीक के बाद उनके खिलाफ चल रहे भ्रष्टाचार के 3 मामलों में एक एवेनफील्ड संपत्ति मामले में उन्हें कुछ ही दिन पहले एक अदालत ने 10 साल कैद की सजा सुनाई है. शरीफ परिवार लंदन के पॉश मेफेयर इलाके में चार अपार्टमेंट का मालिक है. इसके अलावा अल अजीजिया स्टील मिल और फ्लैगशिप इनवेस्टमेंट केस में भी उनका नाम है. इन मामलों में शरीफ पर मनी लॉड्रिंग, टैक्स चोरी और विदेशों में संपत्ति रखने का आरोप है.

पनामा केस में पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने नवाज शरीफ को दोषी करार दिया गया था. इसके बाद पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) को नवाज पर केस दायर करने का आदेश दिया था. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ही नवाज शरीफ ने प्रधानमंत्री का पद छोड़ दिया था और वह अपनी बीमार पत्नी के इलाज के लिए लंदन चले गए थे.

दामाद-बेटे पर भी आरोप

नवाज शरीफ को आजीवन चुनाव लड़ने से प्रतिबंधित किया गया है और वह किसी सार्वजनिक पद पर नहीं बैठ पाएंगे. वहीं उनकी बेटी मरियम शरीफ भी अब चुनाव नहीं लड़ पाएंगी. अदालत ने नवाज के दामाद को भी जेल की सजा सुनाई है और उनके 2 बेटों को भगोड़ा घोषित कर दिया.

शरीफ के परिवार के विदेश में संपत्ति अर्जित करने के आरोपों की जांच के लिए संयुक्त जांच दल का गठन किया गया था और जेआईटी ने अपनी रिपोर्ट अदालत को सौंप दी थी. रिपोर्ट में कहा गया था कि शरीफ और उनके बच्चों का रहन-सहन उनके आय के ज्ञात स्रोत के मुताबिक नहीं है. रिपोर्ट में उनके खिलाफ भ्रष्टाचार का नया मामला दर्ज करने का सुझाव दिया गया था.

नवाज परिवार पर पनामा में मनी लॉन्ड्रिंग करके पैसा जमाना करने और विदेश में संपत्ति बनाने का आरोप है. नवाज शरीफ की संतानों के पास विदेश की कई कंपनियों का स्वामित्व भी हैं. पनामा का यह मामला 1990 के दशक का है, जब नवाज शरीफ प्रधानमंत्री थे. हालांकि यह खुलासा साल 2016 में हुआ था.

विदेश में अकूत संपत्ति

पूर्व पीएम नवाज शरीफ के परिवार ने विदेश में भारी भरकम निवेश कर रखा है. उनकी बेटी मरियम को लंदन के पॉश इलाके एवेनफील्ड में काली कमाई से आलीशान फ्लैट खरीदने के मामले में ही सजा सुनाई गई है. उन पर इन फ्लैट्स को खरीदने के लिए पिता को उकसाने का आरोप है. इसके अलावा नवाज पर प्रधानमंत्री रहने के दौरान भारत में 4.9 अरब डॉलर जमा करने का भी आरोप है.

शरीफ के खिलाफ तीन मामले

पनामा पेपर लीक के बाद उनके खिलाफ चल रहे भ्रष्टाचार के 3 मामलों में एक एवेनफील्ड संपत्ति मामले में उन्हें कुछ ही दिन पहले एक अदालत ने 10 साल कैद की सजा सुनाई है. शरीफ परिवार लंदन के पॉश मेफेयर इलाके में चार अपार्टमेंट का मालिक है. इसके अलावा अल अजीजिया स्टील मिल और फ्लैगशिप इनवेस्टमेंट केस में भी उनका नाम है. इन मामलों में शरीफ पर मनी लॉड्रिंग, टैक्स चोरी और विदेशों में संपत्ति रखने का आरोप है.

You May Also Like

English News