पानी में बहते हुए यहाँ पहुंचा आइसबर्ग, पिघला तो आएगी सुनामी

हम सभी की यादगार फिल्म रही है टाइटैनिक. दुनिया में ना जाने कितने ही ऐसे लोग होंगे जिन्हे आज भी इस फिल्म का एक-एक सीन याद होगा. इस फिल्म में टाइटैनिक नाम का एक जहाज रहता है जो डूब जाता है. इसी तरह का एक किस्सा हाल ही में सामने आया है. दरअसल ग्रीनलैंड में एक गाँव है जिसका नाम है Innaarsuit है. इस गाँव में करीब 170 लोग रहते हैं जो अब दहश्त की वजह से गाँव छोड़ने के लिए तैयार हो गए हैं. जी दरअसल वहां एक ग्लेशियर का टुकड़ा तैरते-तैरते जा पहुंचा है जिसे देखकर सभी हैरान है किसी को समझ ही नहीं आ रहा है कि आखिर ऐसा कैसे हो सकता है. अचानक ही ग्लेशियर का टुकड़ा तैरते हुए यहाँ कैसे आ सकता है. हम सभी की यादगार फिल्म रही है टाइटैनिक. दुनिया में ना जाने कितने ही ऐसे लोग होंगे जिन्हे आज भी इस फिल्म का एक-एक सीन याद होगा. इस फिल्म में टाइटैनिक नाम का एक जहाज रहता है जो डूब जाता है. इसी तरह का एक किस्सा हाल ही में सामने आया है. दरअसल ग्रीनलैंड में एक गाँव है जिसका नाम है Innaarsuit है. इस गाँव में करीब 170 लोग रहते हैं जो अब दहश्त की वजह से गाँव छोड़ने के लिए तैयार हो गए हैं. जी दरअसल वहां एक ग्लेशियर का टुकड़ा तैरते-तैरते जा पहुंचा है जिसे देखकर सभी हैरान है किसी को समझ ही नहीं आ रहा है कि आखिर ऐसा कैसे हो सकता है. अचानक ही ग्लेशियर का टुकड़ा तैरते हुए यहाँ कैसे आ सकता है.   नेताओं से परेशान शिव ने नंदी को लिखा पत्र       सभी का कहना है कि यह टुकड़ा अब उस गाँव में सुनामी का कारण बन सकता है इसी वजह से लोग गाँव छोड़ने के लिए तैयार हैं. कुछ जानकारों का कहना है कि यह ग्लेशियर का टुकड़ा 10 मिलियन टन भारी है और अगर यह पिघल गया तो पुरे देश में सुनामी आ सकती है जो खतरे से खाली नहीं होगा. इस ग्लेसियर का पिघलना सभी के लिए नुकसानदेह हो सकता है. गाँव के लोगों का कहना हैं कि उन्होंने इसके पहले कभी ऐसा ग्लेसियर का टुकड़ा नहीं देखा.  OMG!! जुपिटर पर गलती से मिले 12 चन्द्रमा    पहली बार उन्होंने पहाड़ जैसा ग्लेसियर का टुकड़ा देखा है जिसे देखकर वह आश्चर्यचकित हैं. अब तक गाँव से करीब 33 लोग जा चुके हैं और धीरे-धीरे ग्लेसियर भी पिघ रहा है. ग्रीनलैंड में इस समय माहौल काफी बुरा हो रहा है सभी डरे हुए हैं. सभी इस विषय को लेकर चिंता में हैं कि कभी भी ग्लेशियर पिघल सकता है और उनकी जान जा सकती है. कुछ जानकारों का कहना है कि यह टुकड़ा बहकर आगे भी जा सकता है जरूरी नहीं है कि यह ग्रीनलैंड में ही पिघल जाए.

सभी का कहना है कि यह टुकड़ा अब उस गाँव में सुनामी का कारण बन सकता है इसी वजह से लोग गाँव छोड़ने के लिए तैयार हैं. कुछ जानकारों का कहना है कि यह ग्लेशियर का टुकड़ा 10 मिलियन टन भारी है और अगर यह पिघल गया तो पुरे देश में सुनामी आ सकती है जो खतरे से खाली नहीं होगा. इस ग्लेसियर का पिघलना सभी के लिए नुकसानदेह हो सकता है. गाँव के लोगों का कहना हैं कि उन्होंने इसके पहले कभी ऐसा ग्लेसियर का टुकड़ा नहीं देखा.

पहली बार उन्होंने पहाड़ जैसा ग्लेसियर का टुकड़ा देखा है जिसे देखकर वह आश्चर्यचकित हैं. अब तक गाँव से करीब 33 लोग जा चुके हैं और धीरे-धीरे ग्लेसियर भी पिघ रहा है. ग्रीनलैंड में इस समय माहौल काफी बुरा हो रहा है सभी डरे हुए हैं. सभी इस विषय को लेकर चिंता में हैं कि कभी भी ग्लेशियर पिघल सकता है और उनकी जान जा सकती है. कुछ जानकारों का कहना है कि यह टुकड़ा बहकर आगे भी जा सकता है जरूरी नहीं है कि यह ग्रीनलैंड में ही पिघल जाए.

You May Also Like

English News