फाइनेंशियल प्लानर में नजर आएं ये 5 बातें तो, उसे तुरंत कह दें ‘बाय-बाय’

जीवन में फाइनेंशियल रिस्क लेने से बचने के लिए आपके पास एक वित्तीय सलाहकार का होना जरूरी होता है। हालांकि लोगों के बीच यह गलत धारणा होती है कि वित्तीय सलाहकार केवल मोटी सैलरी वाले लोग ही रख सकते हैं, जबकि ऐसा हरगिज नहीं हैं। हालांकि इसको रखने के दौरान आपको थोड़ी सावधानी भी बरतनी चाहिए।  जीवन में फाइनेंशियल रिस्क लेने से बचने के लिए आपके पास एक वित्तीय सलाहकार का होना जरूरी होता है। हालांकि लोगों के बीच यह गलत धारणा होती है कि वित्तीय सलाहकार केवल मोटी सैलरी वाले लोग ही रख सकते हैं, जबकि ऐसा हरगिज नहीं हैं। हालांकि इसको रखने के दौरान आपको थोड़ी सावधानी भी बरतनी चाहिए।     कई बार वित्तीय सलाहकार रखने में सावधानी नहीं बरतने पर यह आपके लिए घातक हो सकता है। क्योंकि कुछ वित्तीय सलाहकार निवेश के बजाए अपना प्रोडक्ट बेचने में ज्यादा इंटरेस्ट दिखाते हैं। इसलिए कोई भी वित्तीय सलाहकार रखने से पहले उसके पृष्ठभूमि की जांच कर लें या उसके मौजूदा ग्राहक से राय लें की वह कैसा है। इसके बावजूद अगर उसमें ये पांच कमियां दिखती हैं तो उसे फौरन हटा दें।  जब आपका सलाहकार विश्वसनीय न हो: क्या आपका लगता है कि आपका वित्तीय सलाहकार विश्वसनीय नहीं है और वह बस उत्पादों को बेचने के लिए आपके साथ जुड़ा हुआ है? अगर वह केवल निवेश उत्पादों को बेच रहा है और या फिर इससे कमीशन के जरिए आय अर्जित कर रहा है तो फिर वक्त आ गया है कि आप उसे हटा दें।   अपनी निवेश रणनीति को बनाइए मजबूत, बड़े काम के हैं ये 4 टिप्स यह भी पढ़ें खुद के फायदे के लिए आपका नुकसान: एक्सपर्ट के मुताबिक, विभिन्न निवेशकों के बीच जोखिम सहनशीलता की प्राथमिकता अलग-अलग होती है। कई बार ऐसा होता है कि आपका वित्तीय सलाहकार किसी स्पेसिफिक प्रोडक्ट पर कमीशन कमाने के लिए आपको उसमें निवेश के लिए बोलेगा जिसकी जरूरत आपको नहीं है। अगर ऐसा होता है तो वक्त आ गया है कि आप अपना वित्तीय सलाहकार बदल लें।  तिमाही आधार पर फाइनेंशियल एडवाइज से इंकार: फाइनेंशियल प्रोसेस के लिए नियमित वित्तीय परामर्श की आवश्यकता होती है। साल में कम से कम चार बार ऐसा होना चाहिए। लेकिन, ऐसे सलाहकार जो यह नहीं करते या करने में आनाकानी करते हैं उन्हें हटा देना चाहिए। कई वित्तीय सलाहकार ऐसे होते हैं जो केवल नए कस्टमर की फिराक में रहते हैं। ऐसे सलाहकार को हटा देना ही आपके लिए सही रहेगा।   निवेश से जुड़ी इन 5 बड़ी बातों का रखेंगे ध्यान तो कर पाएंगे मोटी कमाई यह भी पढ़ें अलग-अलग राय: एक्सपर्ट के मुताबिक, अगर आपके और वित्तीय सलाहकार की राय में अंतर है और यदि वह खुद की कमाई को लेकर ज्यादा सोच रहा है तो वक्त आ गया है कि आप उसकी जगह किसी और के बारे में सोचें।  आपको लेकर उदासीन: फाइनेंशियल प्लानिंग के लिए आपके और आपके वित्तीय सलाहकार के बीच समय समय पर बातचीत जरूरी है। उसे आपके प्लानिंग के लिए उत्तरदायी होना चाहिए और सक्रियता दिखानी चाहिए। आपकी कोशिश रहे कि उससे व्यक्तिगत रूप से जुड़ें। अगर आपकी लाख कोशिश के बावजूद वह इन बातों पर नहीं सोचता तो उसे हटा दें।

कई बार वित्तीय सलाहकार रखने में सावधानी नहीं बरतने पर यह आपके लिए घातक हो सकता है। क्योंकि कुछ वित्तीय सलाहकार निवेश के बजाए अपना प्रोडक्ट बेचने में ज्यादा इंटरेस्ट दिखाते हैं। इसलिए कोई भी वित्तीय सलाहकार रखने से पहले उसके पृष्ठभूमि की जांच कर लें या उसके मौजूदा ग्राहक से राय लें की वह कैसा है। इसके बावजूद अगर उसमें ये पांच कमियां दिखती हैं तो उसे फौरन हटा दें।

जब आपका सलाहकार विश्वसनीय न हो: क्या आपका लगता है कि आपका वित्तीय सलाहकार विश्वसनीय नहीं है और वह बस उत्पादों को बेचने के लिए आपके साथ जुड़ा हुआ है? अगर वह केवल निवेश उत्पादों को बेच रहा है और या फिर इससे कमीशन के जरिए आय अर्जित कर रहा है तो फिर वक्त आ गया है कि आप उसे हटा दें।

खुद के फायदे के लिए आपका नुकसान: एक्सपर्ट के मुताबिक, विभिन्न निवेशकों के बीच जोखिम सहनशीलता की प्राथमिकता अलग-अलग होती है। कई बार ऐसा होता है कि आपका वित्तीय सलाहकार किसी स्पेसिफिक प्रोडक्ट पर कमीशन कमाने के लिए आपको उसमें निवेश के लिए बोलेगा जिसकी जरूरत आपको नहीं है। अगर ऐसा होता है तो वक्त आ गया है कि आप अपना वित्तीय सलाहकार बदल लें।

तिमाही आधार पर फाइनेंशियल एडवाइज से इंकार: फाइनेंशियल प्रोसेस के लिए नियमित वित्तीय परामर्श की आवश्यकता होती है। साल में कम से कम चार बार ऐसा होना चाहिए। लेकिन, ऐसे सलाहकार जो यह नहीं करते या करने में आनाकानी करते हैं उन्हें हटा देना चाहिए। कई वित्तीय सलाहकार ऐसे होते हैं जो केवल नए कस्टमर की फिराक में रहते हैं। ऐसे सलाहकार को हटा देना ही आपके लिए सही रहेगा।

अलग-अलग राय: एक्सपर्ट के मुताबिक, अगर आपके और वित्तीय सलाहकार की राय में अंतर है और यदि वह खुद की कमाई को लेकर ज्यादा सोच रहा है तो वक्त आ गया है कि आप उसकी जगह किसी और के बारे में सोचें।

आपको लेकर उदासीन: फाइनेंशियल प्लानिंग के लिए आपके और आपके वित्तीय सलाहकार के बीच समय समय पर बातचीत जरूरी है। उसे आपके प्लानिंग के लिए उत्तरदायी होना चाहिए और सक्रियता दिखानी चाहिए। आपकी कोशिश रहे कि उससे व्यक्तिगत रूप से जुड़ें। अगर आपकी लाख कोशिश के बावजूद वह इन बातों पर नहीं सोचता तो उसे हटा दें।

You May Also Like

English News