ब्रेड के बारे में हैरान करने वाली कुछ ऐसी बातें, जिसे आप सुनना नहीं चाहते…

भारत में ब्रेड ब्रिटिश हुकूमत के दौरान ही आया. लेकिन लोगों की बढ़ती व्यस्तता और भाग-दौड़ के कारण अब शहर हो या गांव, ब्रेड का इस्तेमाल हर जगह आम हो चुका है.ब्रेड के बारे में हैरान करने वाली कुछ ऐसी बातें, जिसे आप सुनना नहीं चाहते...

जाहिर तौर पर आपने इससे पहले भी ब्रेड के बारे में काफी कुछ सुना होगा, मसलन- इसे पैरों से बनाया जाता है, इसलिए इसे पाव रोटी कहते हैं आदि. लेकिन हम आपको ब्रेड के बारे में 7 ऐसे फैक्ट्स बताने वाले हैं, जो आपको न केवल हैरान करेंगे, बल्क‍ि आपको सोचने पर मजबूर कर देंगे कि आप ब्रेड कितनी बड़ी कीमत चुका कर खा रहे हैं…

1. नुकसान पहुंचाने वाले केमिकल: भारत में जो ब्रेड तैयार किए जाते हैं, ज्यादातर में पोटैशियम ब्रोमेट या आयोडेट का इस्तेमाल किया जाता है, जो इंसान की सेहत को बरबाद कर देता है. यह खुलासा सेंटर फोर साइंस एंड एंवायर्नमेंट (CSE) के अध्ययन की रिपोर्ट में दावा किया गया.

2. बलगम बढ़ाता है : ब्रेड में रसायन का भरपूर इस्तेमाल होता है. इसके साथ ही पानी की मौजूदगी इसे और भी चिपचिपा बना देता है. इसे खाने के बाद पाचन क्रिया धीमी हो जाती है और पेट में बलगम बनाना शुरू कर देता है.

3. वजन बढ़ाता है : अगर आप बहुत ज्यादा ब्रेड खाते हैं तो इसमें मौजूद नमक, कार्बोहाइड्रेट, रिफाइन्ड शुगर और प्रीजर्वेटिव के कारण आपका वजन बढ़ सकता है.

4. कमजोर पाचन : ब्रेड पाचन क्रिया को कमजोर और धीमा कर देता है. बहुत देर तक पेट में खाना पड़े रहने के कारण पेट में विषाक्त बनने लगता है. यह कई बीमारियों का कारण बन सकता है.

5. पोषक तत्वों की कमी : ब्रेड में पोषक तत्वों की कमी होती है. इसलिए इसे खाने से आपका पेट तो भर जाएगा, लेकिन पोषण नहीं मिलेगा.

6. ब्लड शुगर लेबल बढ़ा देता है : ब्रेड रिफाइन्ड आटा यानी कि मैदा का बना होता है. इसमें ग्ल‍िसेमिक इंडेक्स बहुत ज्यादा होता है. इसकी वजह से खून में शुगर का स्तर बढ़ जाता है. अगर आपको डायबिटीज की शिकायत है तो ब्रेड भूलकर भी ना खाएं.

7. किसी भी प्रकार की रिफाइन्ड खाद्य वस्तु शरीर के लिए हानिकारक होती है. ब्रेड में कार्बन डाइऑक्साइड और ब्रोमाइन जैसी कई विषाक्त चीजें हैं, जो आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकती हैं.

You May Also Like

English News