भतीजे नहीं सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से होती है बातचीत : शिवपाल

देश के सबसे बड़े समाजवादी कुनबे में कुछ ठीक हो न हो लेकिन समाजवादी पार्टी में सब कुछ ठीक है। इस बात की तस्दीक पार्टी नेता शिवपाल यादव भी करते हैं। अखिलेश के जिक्र पर शिवपाल के जवाब में यह सब कुछ साफ झलकता भी है। उन्होंने कहा कि उनकी भतीजे से नहीं बल्कि पार्टी अध्यक्ष से बात होती है। समझा जाता है कि सैफई के इस परिवार में विधानसभा चुनाव के बाद सब शांत भले दिखता पर टीस अभी बरकरार है। देश के सबसे बड़े समाजवादी कुनबे में कुछ ठीक हो न हो लेकिन समाजवादी पार्टी में सब कुछ ठीक है। इस बात की तस्दीक पार्टी नेता शिवपाल यादव भी करते हैं। अखिलेश के जिक्र पर शिवपाल के जवाब में यह सब कुछ साफ झलकता भी है। उन्होंने कहा कि उनकी भतीजे से नहीं बल्कि पार्टी अध्यक्ष से बात होती है। समझा जाता है कि सैफई के इस परिवार में विधानसभा चुनाव के बाद सब शांत भले दिखता पर टीस अभी बरकरार है।    परिवार और राजनीति अलग-अलग   शिवपाल सिंह शुक्रवार को उन्नाव के असोहा ब्लाक के ग्राम शिवगढ़ एक निजी कार्यक्रम में आए थे। इस दौरान रिश्तों की बात छेड़े जाने पर उन्होंने बड़ी साफगोई से जवाब दिया कि वह लंबे समय तक पार्टी के पदाधिकारी रहे हैं लेकिन अब विधायक भर हैं। बोले नेता जी (मुलायम सिंह) जो कहेंगे उसके अनुसार वह काम करते रहेंगे। उन्होंने बात संभालते हुए कहा कि परिवार और राजनीति अलग-अलग है।  महागठबंधन पर भी मलाल झलका  भाजपा के विरोध में महागठबंधन के सवाल के जवाब में भी पार्टी के अहम फैसलों में उनसे सलाह न लिए जाने का मलाल झलका। वह बोले कि गठबंधन के लिए हुई बैठक में उनको नहीं बुलाया गया पार्टी के सभी फैसले राष्ट्रीय अध्यक्ष लेंगे। हालांकि भाजपा पर वार उन्होंने जरूर कहा कि महागठबंधन हुआ तो भाजपा की हार तय है। उन्होंने योगी सरकार में कानून व्यवस्था को ध्वस्त बताते हुए कहा कि दुष्कर्म, हत्या, लूट की घटनाओं में भी बिना पैसा लिए मुकदमे दर्ज नहीं हो रहे।

परिवार और राजनीति अलग-अलग 

शिवपाल सिंह शुक्रवार को उन्नाव के असोहा ब्लाक के ग्राम शिवगढ़ एक निजी कार्यक्रम में आए थे। इस दौरान रिश्तों की बात छेड़े जाने पर उन्होंने बड़ी साफगोई से जवाब दिया कि वह लंबे समय तक पार्टी के पदाधिकारी रहे हैं लेकिन अब विधायक भर हैं। बोले नेता जी (मुलायम सिंह) जो कहेंगे उसके अनुसार वह काम करते रहेंगे। उन्होंने बात संभालते हुए कहा कि परिवार और राजनीति अलग-अलग है।

महागठबंधन पर भी मलाल झलका

भाजपा के विरोध में महागठबंधन के सवाल के जवाब में भी पार्टी के अहम फैसलों में उनसे सलाह न लिए जाने का मलाल झलका। वह बोले कि गठबंधन के लिए हुई बैठक में उनको नहीं बुलाया गया पार्टी के सभी फैसले राष्ट्रीय अध्यक्ष लेंगे। हालांकि भाजपा पर वार उन्होंने जरूर कहा कि महागठबंधन हुआ तो भाजपा की हार तय है। उन्होंने योगी सरकार में कानून व्यवस्था को ध्वस्त बताते हुए कहा कि दुष्कर्म, हत्या, लूट की घटनाओं में भी बिना पैसा लिए मुकदमे दर्ज नहीं हो रहे।

English News

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com