भारी बारिश के बाद मुंबई में फैल रही ये जानलेवा बीमारी

भारी बारिश अपने  साथ कई  मुसीबतें लाती है। मुंबई में बारिश के बाद एक जानलेवा बीमारी फैल् रही है,  जो डेंगू, मलेरिया से कई गुना ज्यादा घातक साबित हो सकती है। जानकारी के अनुसार, इस बीमारी का नाम लेप्टोस्पायरोसिस है। इस बीमारी के कारण मुंबई में अब तक चार लोगों की मौत हो चुकी है। भारी बारिश अपने  साथ कई  मुसीबतें लाती है। मुंबई में बारिश के बाद एक जानलेवा बीमारी फैल् रही है,  जो डेंगू, मलेरिया से कई गुना ज्यादा घातक साबित हो सकती है। जानकारी के अनुसार, इस बीमारी का नाम लेप्टोस्पायरोसिस है। इस बीमारी के कारण मुंबई में अब तक चार लोगों की मौत हो चुकी है।    इस बीमारी के बारे में डॉक्टरों का कहना है कि यह बीमारी एक  विशेष तरह के बैक्टीरिया से फैलती है और यह जीवाणु इंसान के साथ—साथ चूहों और जानवरों को भी नुकसान पहुंचाते हैं। यह एक संक्रामक रोग है। इतना ही नहीं डॉक्टरों का यह भी कहना है कि अगर एक बार इस बीमारी का बैक्टीरिया  एक बार शरीर में पहुंच जाता है, तो 24 घंटे के भीतर ही पूरे शरीर को प्रभावित कर देता है, जो बहुत घातक हो सकता है। डॉक्टरों का कहना है कि  यह बैक्टीरिया बारिश के बाद पैदा होता है, इसलिए गंदे पानी से बचना चाहिए।       ये हैं लक्षण— डॉक्टरों के अनुसार, इस बीमारी के लक्षण डेंगू, मलेरिया जैसे ही हैं। इसमें भी बुखार, सिरदर्द के साथ बदन दर्द होता है और आंखें लाल हो जाती हैं। इसके अलावा पीलिया भी हो सकता है। अगर आपके शरीर में दर्द है और थकान महसूस हो रही है, तो हो सकता है कि आप लेप्टोस्पायरोसिस के बैक्टीरिया  की गिरफ्त में  हों।   बारिश में बढ़ जाता है खतरा— डॉक्टरों का कहना है कि इस बीमारी का खतरा बारिश में और बढ़ जाता है। बारिश के  कारण यह बैक्टीरिया तेजी से फैलते हैं। खासकर इस मौसम में चूहों से सावधान रहें।

इस बीमारी के बारे में डॉक्टरों का कहना है कि यह बीमारी एक  विशेष तरह के बैक्टीरिया से फैलती है और यह जीवाणु इंसान के साथ—साथ चूहों और जानवरों को भी नुकसान पहुंचाते हैं। यह एक संक्रामक रोग है। इतना ही नहीं डॉक्टरों का यह भी कहना है कि अगर एक बार इस बीमारी का बैक्टीरिया  एक बार शरीर में पहुंच जाता है, तो 24 घंटे के भीतर ही पूरे शरीर को प्रभावित कर देता है, जो बहुत घातक हो सकता है। डॉक्टरों का कहना है कि  यह बैक्टीरिया बारिश के बाद पैदा होता है, इसलिए गंदे पानी से बचना चाहिए। 

ये हैं लक्षण— डॉक्टरों के अनुसार, इस बीमारी के लक्षण डेंगू, मलेरिया जैसे ही हैं। इसमें भी बुखार, सिरदर्द के साथ बदन दर्द होता है और आंखें लाल हो जाती हैं। इसके अलावा पीलिया भी हो सकता है। अगर आपके शरीर में दर्द है और थकान महसूस हो रही है, तो हो सकता है कि आप लेप्टोस्पायरोसिस के बैक्टीरिया  की गिरफ्त में  हों।  

बारिश में बढ़ जाता है खतरा— डॉक्टरों का कहना है कि इस बीमारी का खतरा बारिश में और बढ़ जाता है। बारिश के  कारण यह बैक्टीरिया तेजी से फैलते हैं। खासकर इस मौसम में चूहों से सावधान रहें।

You May Also Like

English News