मराठा आरक्षण LIVE: मुंबई में बंद का बड़ा असर, प्रदर्शनकारियों ने ठाणे में ट्रेन रोकी, बस पर पत्थर बरसाए

महाराष्ट्र में 16% आरक्षण की मांग को लेकर मराठा समाज का आंदोलन हिंसक होता जा रहा है. आज सुबह से ही प्रदर्शनकारियों ने सड़कों पर उतरकर तोड़ फोड़ शुरू कर दी.  मराठा आंदोलन को लेकर आज मुंबई समेत आसपास के जिलों में बंद का एलान किया गया है. आज मुंबई, नवी मुंबई, पालघर, ठाणे, कल्याण, सातारा, नासिक में बंद बुलाया गया है. ल आरक्षण की मांग को लेकर महाराष्ट्र के 15 जिलों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे. मराठा आरक्षण आंदोलन से जुड़ी पल-पल की अपडेट के लिए बने रहिए एबीपी न्यूज़ के साथ.महाराष्ट्र में 16% आरक्षण की मांग को लेकर मराठा समाज का आंदोलन हिंसक होता जा रहा है. आज सुबह से ही प्रदर्शनकारियों ने सड़कों पर उतरकर तोड़ फोड़ शुरू कर दी.  मराठा आंदोलन को लेकर आज मुंबई समेत आसपास के जिलों में बंद का एलान किया गया है. आज मुंबई, नवी मुंबई, पालघर, ठाणे, कल्याण, सातारा, नासिक में बंद बुलाया गया है. ल आरक्षण की मांग को लेकर महाराष्ट्र के 15 जिलों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे. मराठा आरक्षण आंदोलन से जुड़ी पल-पल की अपडेट के लिए बने रहिए एबीपी न्यूज़ के साथ. Maratha Quota Stir LIVE UPDATES  10.38 AM: लातूर जिले के उदगिर में दो संगठनों के बीच झड़प हो गई है. यहां लोग जबरदस्ती दुकानें बंद करवा रहे हैं.  10.30 AM: नवी मुंबई के वाशी में भी लोग डरे सहमे हुए हैं. तोड़फोड़ की आशंका से बसें भी कम चल रही हैं.  10.18 AM: मुंबई के जोगेश्वरी इलाके में भी मराठा समाज के लोगों ने रास्ता रोक दिया. स्टेशन और हाईवे को जोड़ने वाले रास्ते को बंद करने की कोशिश की गई है.  10.12 AM: मुंबई में बंद का असर धीरे धीरे दिखने लगा है. खबर आ रही है कि सायन पनवेल हाइवे आंदोलनकारियों ने रोक दिया है. ये मुंबई को पुणे और गोवा से जोड़ने वाला हाइवे है.  09. 45 AM: मराठा आरक्षण  को लेकर बुलाए गए बंद का मुंबई के पास विरार में भी ज्यादा असर नहीं दिख रहा.  09. 30 AM:  मुम्बई की लाइफलाइन लोकल ट्रेनों में रोज़ की तरह भीड़ देखी जा रही है. प्रदर्शनकारियों ने ठाणे में लोकल ट्रेन रोक दी है. मुंबई के घाटकोपर जहां मराठा आंदोलनकारियों ने दुकानें बंद करा दीं.  09. 17 AM: मुंबई का अंधेरी भीड़भाड़ वाला इलाका है. अधेरी इलाके में बंद का असर नहीं नहीं आया. रेल सेवा और ट्रैफिक भी सामान्य नजर आया.  09. 15 AM: आंदोलन को देखते हुए मुंबई के दहिसर चेक नाके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. मुम्बई में सुबह से पश्चिम, मध्य और हार्बर रेल समय पर चल रही है, बस, ऑटो और टैक्सी सेवा पर भी असर नहीं है.  09. 12 AM: मुंबई बंद का स्कूलों पर असर नहीं दिख रहा है. ज्यादातर स्कूलों में  बच्चे और टीचर्स समय से आये हैं. चेंबूर के एक स्कूल ने एहतियात के तौर पर छुट्टी दी है.  09.04 AM: नवी मुंबई के पास प्रदर्शनकारियों ने बेस्ट की दो बसों पर पत्थरबाजी की है. अरोली और वाशी के बीच बस सेवा पूरी तरह से बंद कर दी गई है. सुबह से ही मुंबई में बंद का असर देखने को मिल रहा है.  View image on TwitterView image on Twitter  ANI ✔ @ANI  #MarathaReservation protest enters day 2: Visuals from Thane's Teen Haath Naka. #Maharashtra  8:52 AM - Jul 25, 2018 22 See ANI's other Tweets Twitter Ads info and privacy    09.03 AM: मुंबई के अमृत नगर परिसर में शिवाजी महाराज के पुतले की वंदना करके आंदोलनकारी बंद करेंगे. यहां पुलिस का बंदोबस्त बड़ी संख्या में है. पूरे मुंबई में पुलिस फ़ोर्स सड़कों पर है. वहीं सीआरपीएफ़, हेड क्वॉटर स्टाफ़ को भी बंदोबस्त में शामिल किया गया है.    09.00 AM: मुंबई के सरकारी अस्पतालों पर बंद का कोई असर नहीं है. आंदोलनकर्ताओं ने कहा है कि मरीज, महिला और छोटे बच्चों को कोई तकलीफ नहीं दी जाएगी.  मुंबई बंद के दौरान मराठा आंदोलनकर्ता आचार संहिता का पालन करेंगे.  क्यों भड़की आंदोलन की चिंगारी?  महाराष्ट्र में मराठा आरक्षण की चिंगारी इसलिए भड़की है, क्योंकि 8 साल बाद महाराष्ट्र में 72,000 सरकारी भर्तियां होने वाली हैं. मराठा समाज को लग रहा है कि अगर ये भर्तियां उन्हें 16 फीसदी आरक्षण दिए बिना पूरी कर ली गईं तो उनके समाज के साथ बड़ा धोखा होगा.  मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कहा है कि 72 हज़ार भर्तियों में 16 फीसदी सीटें मराठा उम्मीदवारों के लिए रिजर्व रखेंग. कोर्ट से हरी झंडी मिलने पर मराठा उम्मीदवारों से सीट भरेंगे मराठा क्रांति मोर्चा के संयोजक रविन्द्र पाटिल ने कहा है कि जब तक मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस मराठा समुदाय से माफी नहीं मांग लेते हम अपना प्रर्दशन जारी रखेंगे.  फडणवीस के आश्वासनों के बावजूद कुछ भी ठोस नहीं हुआ- मराठा क्रांति मोर्चा  मराठा क्रांति मोर्चा के संयोजक रविन्द्र पाटिल ने कहा है कि जब तक मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस मराठा समुदाय से माफी नहीं मांग लेते हम अपना प्रर्दशन जारी रखेंगे. हम औरंगाबाद और राज्य के अन्य हिस्सों में आज बंद रखेंगे. फडणवीस ने पंढरपुर के मंदिर की अपनी यात्रा मराठा संगठनों की इस धमकी के बाद स्थगित कर दी कि वे कार्यक्रम में बाधा पहुंचायेंगे. समुदाय के नेता अपनी मांगों को लेकर विभिन्न जिलों में रैलियां निकाल चुके हैं. पिछले साल मुंबई में मराठा क्रांति मोर्चा ने एक बड़ी रैली का आयोजन किया था. समुदाय के नेताओं का कहना है कि फडणवीस के आश्वासनों के बावजूद अबतक कुछ भी ठोस नहीं हुआ है. मराठा समाज की मांगें क्या हैं?   मराठा समाज 16% आरक्षण की मांग कर रहा है. ये समाज पिछड़ा वर्ग के तहत सरकारी नौकरी, शिक्षा के क्षेत्र में भी आरक्षण की मांग कर रहा है. पिछले दो सालों से महाराष्ट्र में ये आंदोलन चल रहा है. पिछले दो सालों में 60 से ज्यादा जगहों पर आंदोलन हुआ है. इतना ही नहीं मराठा समाज कोपर्डी गैंगरेप के दोषियों को फांसी देने की मांग कर रहा है. साल 2016 में कोपर्डी में नाबालिग से गैंगरेप हुआ था.   महाराष्ट्र में मराठा आबादी 33% यानी करीब चार करोड़ है. ऐसे में कोई भी सरकार इस समाज को नाराज नहीं कर सकती. इस आंदोलन का नेतृत्व मराठा क्रांति मोर्चा कर रहा है. मराठा आंदोलन में लाखों लोग शामिल हो रहे हैं

Maratha Quota Stir LIVE UPDATES

10.38 AM: लातूर जिले के उदगिर में दो संगठनों के बीच झड़प हो गई है. यहां लोग जबरदस्ती दुकानें बंद करवा रहे हैं.

10.30 AM: नवी मुंबई के वाशी में भी लोग डरे सहमे हुए हैं. तोड़फोड़ की आशंका से बसें भी कम चल रही हैं.

10.18 AM: मुंबई के जोगेश्वरी इलाके में भी मराठा समाज के लोगों ने रास्ता रोक दिया. स्टेशन और हाईवे को जोड़ने वाले रास्ते को बंद करने की कोशिश की गई है.

10.12 AM: मुंबई में बंद का असर धीरे धीरे दिखने लगा है. खबर आ रही है कि सायन पनवेल हाइवे आंदोलनकारियों ने रोक दिया है. ये मुंबई को पुणे और गोवा से जोड़ने वाला हाइवे है.

09. 45 AM: मराठा आरक्षण  को लेकर बुलाए गए बंद का मुंबई के पास विरार में भी ज्यादा असर नहीं दिख रहा.

09. 30 AM:  मुम्बई की लाइफलाइन लोकल ट्रेनों में रोज़ की तरह भीड़ देखी जा रही है. प्रदर्शनकारियों ने ठाणे में लोकल ट्रेन रोक दी है. मुंबई के घाटकोपर जहां मराठा आंदोलनकारियों ने दुकानें बंद करा दीं.

09. 17 AM: मुंबई का अंधेरी भीड़भाड़ वाला इलाका है. अधेरी इलाके में बंद का असर नहीं नहीं आया. रेल सेवा और ट्रैफिक भी सामान्य नजर आया.

09. 15 AM: आंदोलन को देखते हुए मुंबई के दहिसर चेक नाके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. मुम्बई में सुबह से पश्चिम, मध्य और हार्बर रेल समय पर चल रही है, बस, ऑटो और टैक्सी सेवा पर भी असर नहीं है.

09. 12 AM: मुंबई बंद का स्कूलों पर असर नहीं दिख रहा है. ज्यादातर स्कूलों में  बच्चे और टीचर्स समय से आये हैं. चेंबूर के एक स्कूल ने एहतियात के तौर पर छुट्टी दी है.

09.04 AM: नवी मुंबई के पास प्रदर्शनकारियों ने बेस्ट की दो बसों पर पत्थरबाजी की है. अरोली और वाशी के बीच बस सेवा पूरी तरह से बंद कर दी गई है. सुबह से ही मुंबई में बंद का असर देखने को मिल रहा है.

09.03 AM: मुंबई के अमृत नगर परिसर में शिवाजी महाराज के पुतले की वंदना करके आंदोलनकारी बंद करेंगे. यहां पुलिस का बंदोबस्त बड़ी संख्या में है. पूरे मुंबई में पुलिस फ़ोर्स सड़कों पर है. वहीं सीआरपीएफ़, हेड क्वॉटर स्टाफ़ को भी बंदोबस्त में शामिल किया गया है.

09.00 AM: मुंबई के सरकारी अस्पतालों पर बंद का कोई असर नहीं है. आंदोलनकर्ताओं ने कहा है कि मरीज, महिला और छोटे बच्चों को कोई तकलीफ नहीं दी जाएगी.  मुंबई बंद के दौरान मराठा आंदोलनकर्ता आचार संहिता का पालन करेंगे.

क्यों भड़की आंदोलन की चिंगारी?

महाराष्ट्र में मराठा आरक्षण की चिंगारी इसलिए भड़की है, क्योंकि 8 साल बाद महाराष्ट्र में 72,000 सरकारी भर्तियां होने वाली हैं. मराठा समाज को लग रहा है कि अगर ये भर्तियां उन्हें 16 फीसदी आरक्षण दिए बिना पूरी कर ली गईं तो उनके समाज के साथ बड़ा धोखा होगा.

मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कहा है कि 72 हज़ार भर्तियों में 16 फीसदी सीटें मराठा उम्मीदवारों के लिए रिजर्व रखेंग. कोर्ट से हरी झंडी मिलने पर मराठा उम्मीदवारों से सीट भरेंगे मराठा क्रांति मोर्चा के संयोजक रविन्द्र पाटिल ने कहा है कि जब तक मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस मराठा समुदाय से माफी नहीं मांग लेते हम अपना प्रर्दशन जारी रखेंगे.

फडणवीस के आश्वासनों के बावजूद कुछ भी ठोस नहीं हुआ- मराठा क्रांति मोर्चा

मराठा क्रांति मोर्चा के संयोजक रविन्द्र पाटिल ने कहा है कि जब तक मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस मराठा समुदाय से माफी नहीं मांग लेते हम अपना प्रर्दशन जारी रखेंगे. हम औरंगाबाद और राज्य के अन्य हिस्सों में आज बंद रखेंगे. फडणवीस ने पंढरपुर के मंदिर की अपनी यात्रा मराठा संगठनों की इस धमकी के बाद स्थगित कर दी कि वे कार्यक्रम में बाधा पहुंचायेंगे. समुदाय के नेता अपनी मांगों को लेकर विभिन्न जिलों में रैलियां निकाल चुके हैं. पिछले साल मुंबई में मराठा क्रांति मोर्चा ने एक बड़ी रैली का आयोजन किया था. समुदाय के नेताओं का कहना है कि फडणवीस के आश्वासनों के बावजूद अबतक कुछ भी ठोस नहीं हुआ है.

मराठा समाज की मांगें क्या हैं?

मराठा समाज 16% आरक्षण की मांग कर रहा है. ये समाज पिछड़ा वर्ग के तहत सरकारी नौकरी, शिक्षा के क्षेत्र में भी आरक्षण की मांग कर रहा है. पिछले दो सालों से महाराष्ट्र में ये आंदोलन चल रहा है. पिछले दो सालों में 60 से ज्यादा जगहों पर आंदोलन हुआ है. इतना ही नहीं मराठा समाज कोपर्डी गैंगरेप के दोषियों को फांसी देने की मांग कर रहा है. साल 2016 में कोपर्डी में नाबालिग से गैंगरेप हुआ था.

महाराष्ट्र में मराठा आबादी 33% यानी करीब चार करोड़ है. ऐसे में कोई भी सरकार इस समाज को नाराज नहीं कर सकती. इस आंदोलन का नेतृत्व मराठा क्रांति मोर्चा कर रहा है. मराठा आंदोलन में लाखों लोग शामिल हो रहे हैं

You May Also Like

English News