बारिश का कहर: महज चंद घंटों की बारिश से पानी-पानी हुआ गुरुग्राम

पिछले साल गुरुग्राम में लगे महाजाम के बाद भी गुरुग्राम प्रशासन ने कोई सीख नहीं ली है. बुधवार को महज चंद घंटों की बरिश ने गुरुग्राम प्रशासन के सभी दावो की पोल खोल कर रख दी. सड़कों पर पहले से मजूद गड्ढों ने हालात और बिगाड़ दिए. जगह-जगह पानी भर गया और सड़के जलमग्न हो गई. इसके साथ ही ये समस्या उत्पन्न हो गई है, कि मुख्य मार्गों पर पानी भरा गया है जिसके कारण गाड़ियां बेहद धीमी गति से चल रही है. हालात ये है कि 15 मिनट का रास्ता घंटे भर के सफर में तब्दील हो गया है और ये स्थिति तब बनी है जब गुरुग्राम में कुछ ही घंटों की बरसात हुई है.बारिश का कहर: महज चंद घंटों की बारिश से पानी-पानी हुआ गुरुग्रामराम रहीम के खिलाफ फैसला आने के बाद पंचकूला में उसके समर्थकों ने किया सबसे बड़ा नुकसान, कई स्टूडेंट्स को दी धमकी

गुरुग्राम बस डिपो

महज कुछ घंटे ही बारिश हुई पर गुरुग्राम के बस डिपो में जैसे बाढ़ आ गई है. यहां से रोज हज़ारों यात्री बसों से पंजाब हरियाणा और दिल्ली की तरफ जाने के लिए गुजरते है. पर प्रशासनिक लापरवाही के चलते यहां गंदगी का अंबार लगा है. पूरा बस डिपो जलमग्न हो चुका है और निकासी का कोई रास्ता नहीं दिख रहा. यात्रियों को काफी परेशानी उठानी पड़ रही है.

हुडा मेट्रो स्टेशन

मुख्य मार्गो में पानी भरा होने से ट्रैफिक बुरी तरह प्रभावित हो रहा है. हुडा सिटी मेट्रो स्टेशन के ठीक सामने मुख्य सड़क पर पानी भरा हुआ है. जिसके चलते ऑटो और अन्य गाड़ियों को वहां से गुजरने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. बता दें कि ये गुरुग्राम के प्रमुख इलाको में से एक है. यहां बड़े-बड़े दो हॉस्पिटल के अलावा कई प्राइवेट कंपनियों के दफ्तर है. इसके अलावा यहां मेट्रो स्टेशन होने से लोगों की भीड़ इस रास्ते पर अक्सर बनी रहती है.

सेक्टर 51

गुरुग्राम के पॉश इलाकों में से एक सेक्टर 51 में भी सड़कें पूरी तरह जलमग्न हो चुकी है. दिन के वक़्त भी गाड़ियों की लंबी कतारें देखने को मिल रही है . सड़कों पर पानी भरने के चलते गाड़ियों की गति धीमी हो गई है और लोग परेशान है.

सेक्टर 47

सुभाष चौक की तरफ बढ़ते ही टूटी हुई सड़कों पर भरा पानी लोगों की दिक्कतें बढ़ा रहा है. ये गुरुग्राम के बिजी इलाकों में से एक है और इस चौक से लगे सेक्टर 46, 47 और 50 का बुरा हाल है. मुख्य सड़कों के अलावा इन सेक्टरों की सड़कें जर्जर हो चुकी है और पूरी तरह जलमग्न है.

You May Also Like

English News