ये हैं हिन्दुस्तान के 6 सबसे बड़े राज, अगर रहस्य खुला तो आप हो जाएंगे मालामाल

नई दिल्ली – भारत की गिनती दुनिया के सबसे प्रचीन देशों में की जाती है। भारत यानि हिन्दुस्तान का अस्तित्व तब से है जब से दुनिया का अस्तित्व है। हिन्दुस्तान को दुनिया की सबसे पुरानी सभ्यता माना जाता है। इसलिए हमारे देश में ऐसे कई रहस्य छिपे हुए हैं जिन्हें आज तक कोई नहीं समझ पाया। कभी सोने की चिड़िया कहे जाने वाले हिन्दुस्तान को उसकी प्राचीन सभ्यता के लिए जाना जाता है। भले ही आज दुनिया का बाकी देश आज भारत से विकास के क्षेत्र में आगे निकल गए हों। लेकिन, कहा जाता है कि यहां हजारों साल पहले भी विमान उड़ाते थे, एटम बम से खतरनाक ब्रह्मास्त्र चलाये जाते थे।

हालांकि, इसका कोई प्रत्यक्ष प्रमाण नहीं मिला और इसे सिर्फ एक मान्यता माना जाता है। लेकिन, आज हम आपको अपने देश के कुछ ऐसे रहस्य बताने जा रहे हैं, जो आज तक रहस्य ही बने हुए हैं। लेकिन, जिस दिन इन रहस्यों से पर्दा उठेगा भारत की तस्वीर बदल जाएगी। तब शायद हिन्दुस्तान दुनिया के बाकी देशों से विकास और तकनीक के मामले में कहीं आगे निकल जाये। तो आइये देखते हैं वो कौन कौन से रहस्य हैं जो अभी तक छिपे हुए हैं।

 श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर का छठवाँ तहखाना

केरल के तिरुवनन्तपुरम में मौजूद श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर भगवान विष्णु का प्रसिद्ध मंदिर है। कुछ वर्षों पूर्व यह मंदिर अपने ख्रजाने की वजह से चर्चा में रहा था। केरल के श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर के गर्भगृह में भगवान विष्णु की विशाल मूर्ति विराजमान है। श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर के तहखाने से स्वर्ण आभूषण, स्वर्ण और चांदी की मुद्राएं, रत्नजड़ित मुकुट, बहुमूल्य पत्थरों की प्रतिमाएं और आभूषणों से युक्त एक खजाना है जिसकी कीमत लगभग 90 हजार करोड़ रुपए है। इस मंदिर के 5 तहखानों को खोला जा चुका है, जिसमें से करीब 22 अरब डॉलर का खजाना मिला है। लेकिन, छठवें तहखाने में क्या है इसका पता अभी नहीं चल सका है। क्योंकि, इसे खोलने पर रोक लगा दी गई थी।

 75 साल से बिना कुछ खाये जिंदा हैं ये साधु

हिन्दुस्तान में एक साधु हैं जिनका नाम प्रहलाद जानी है। इनके बारे में कहा जाता है कि ये पिछले 75 साल से बिना कुछ खाये पिये जिंदा है। बाबा प्रहलाद जानी गुजरात के अंबाजी मंदिर के पास एक गुफा में रहते हैं। बाबा के मुताबिक, 12 साल की उम्र में देवी जैसी तीन कन्याओं ने उनकी जीभ पर उंगली रखी थी, तब से उन्हें कभी भूख और प्यास नहीं लगती। बाबा को भुख और प्यास क्यों नहीं लगती यह जानने के लिए कई डॉक्टर उनकी जांच कर चुके हैं। हालांकि, उन्हें कोई खास सफलता हाथ नहीं लगी। लेकिन, अगर बाबा प्रहलाद जानी का रहस्य खुलता है तो देश के लिए यह एक बड़ी खोज होगी।

 महान सम्राट अशोक के 9 रहस्यमय रत्न

सम्राट अशोक के 9 रहस्यमय रत्नों में 9 लोग हैं, जो एक साथ एक गोले में खड़े हैं। इन सभी के हाथ में एक किताब है। इन किताबों में से हर एक में विज्ञान, जैविक हथियार, सिर्फ छूकर किसी को मारने की कला, किसी भी धातु से सोना बनाने की कला जैसे कई राज लिखे हुए हैं। ऐसी मान्यता है कि कलिंग युद्ध में हिंसा को देखकर अशोक ने विज्ञान के रहस्यों को छिपा दिया था। इसकी रक्षा के लिए अशोक ने 9 लोगों की एक टीम बनाई थी।

200 सालों से वीरान गांव का राज

राजस्थान के जैसलमेर में स्थित कुलधरा गांव में 600 से ज्यादा घर, मंदिर, 1 दर्जन कुंए, एक बावड़ी और 4 तालाब होने के बावजूद इस गांव में करीब दो सौ सालों से कोई नहीं रहता है। मान्यता है कि इस गांव में पालीवाल ब्राह्मणों के परिवार की एक कन्या से जैसलमेर रियासत के दीवान सालिम सिंह की शादी की जिद की वजह से कुलधरा समेत सभी 83 गांवों से वो चले गए। जिसके बाद से 200 सौ सालों से कुलधरा गांव आज भी विरान है।

समुद्र के नीचे बसा पूरा शहर

श्रीकृष्ण द्वारा बसाई गई नगरी द्वारिका जो समुद्र के अंदर समा गई। इस नगरी के अवशेष वैज्ञानिकों को आज भी मिलते हैं। वैज्ञानिक इस नगरी की खोज सालों से कर रहे हैं, इसके बावजूद यह नगरी आज तक किसी को नहीं मिली। इस नगरी के होने के वैसे तो सैकड़ों सबूत मिल चुके हैं।

वह जगह जहां आत्महत्या करने आते हैं पक्षी

गुवाहाटी से 330 किलोमीटर दूर बसे जातिंगा गांव में हर साल हज़ारो की संख्या में पक्षी आत्महत्या करने आते हैं। ऐसा माना जाता है कि पक्षी किसी खास रोशनी को देखते हैं, उसमे समा जाते हैं। इस बारे में वैज्ञानिकों का मानना है कि जातिंगा नाम की घाटी में एक विशेष प्रकार का प्रभाव पैदा होता है, जिसकी वजह से वहां के गुजरने वाले पक्षी उड़ नहीं पाते और दीवारों से टकराकर मारे जाते हैं।

You May Also Like

English News