योगी ने हवाई दौरे से शिवभक्तों की सुरक्षा जानी-समझी, कांवडिय़ों पर फूल बरसाए

नोएडा स्थित गौतमबुद्धनगर विवि में शुक्रवार को एक कार्यक्रम में शामिल होने आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हेलीकॉप्टर से कांवडिय़ों की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। हिंडन एयरबेस से हेलीकॉप्टर लेकर उन्होंने गंगनहर पटरी मार्ग पर मुजफ्फरनगर के खतौली मोड़ तक निरीक्षण किया और हेलीकॉप्टर से ही कांवडिय़ों पर पुष्पवर्षा भी की। उनके साथ एडीजी प्रशांत कुमार भी मौजूद रहे। इस दौरान मेरठ, गाजियाबाद और मुजफ्फरनगर जनपद के अधिकारी कांवड़ मार्ग पर डेरा डाले रहे। नोएडा स्थित गौतमबुद्धनगर विवि में शुक्रवार को एक कार्यक्रम में शामिल होने आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हेलीकॉप्टर से कांवडिय़ों की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। हिंडन एयरबेस से हेलीकॉप्टर लेकर उन्होंने गंगनहर पटरी मार्ग पर मुजफ्फरनगर के खतौली मोड़ तक निरीक्षण किया और हेलीकॉप्टर से ही कांवडिय़ों पर पुष्पवर्षा भी की। उनके साथ एडीजी प्रशांत कुमार भी मौजूद रहे। इस दौरान मेरठ, गाजियाबाद और मुजफ्फरनगर जनपद के अधिकारी कांवड़ मार्ग पर डेरा डाले रहे।    कांवड़ मार्ग पर अधिकारियों का डेरा   मेरठ के एसएसपी राजेश कुमार पांडेय ने बताया कि योगी आदित्यनाथ का स्टेट प्लेन हिंडन एयरबेस पर पहुंचा। यहां से करीब ढाई बजे हेलीकॉप्टर से वह मुरादनगर गंगनहर से खतौली मोड़ तक पहुंचे। खतौली मोड़ से उनका हेलीकॉप्टर वापस हिंडन एयरबेस पहुंचा। यहां से लखनऊ रवाना हो गए। इस दौरान मुजफ्फरनगर के आला अधिकारी खतौली में मौजूद रहे। मेरठ जिलाधिकारी अनिल ढींगरा, एसएसपी राजेश कुमार पांडेय, एसपी देहात राजेश कुमार तथा अन्य अफसर भी कांवड़ मार्ग पर मौजूद रहे। दूसरी ओर शुक्रवार दोपहर तक भी हाईवे-58 वन-वे नहीं था। दोपहर बाद जैसे ही मुख्यमंत्री के आने की सूचना आई तो आनन-फानन में हाईवे वन-वे कर दिया गया।

कांवड़ मार्ग पर अधिकारियों का डेरा 

मेरठ के एसएसपी राजेश कुमार पांडेय ने बताया कि योगी आदित्यनाथ का स्टेट प्लेन हिंडन एयरबेस पर पहुंचा। यहां से करीब ढाई बजे हेलीकॉप्टर से वह मुरादनगर गंगनहर से खतौली मोड़ तक पहुंचे। खतौली मोड़ से उनका हेलीकॉप्टर वापस हिंडन एयरबेस पहुंचा। यहां से लखनऊ रवाना हो गए। इस दौरान मुजफ्फरनगर के आला अधिकारी खतौली में मौजूद रहे। मेरठ जिलाधिकारी अनिल ढींगरा, एसएसपी राजेश कुमार पांडेय, एसपी देहात राजेश कुमार तथा अन्य अफसर भी कांवड़ मार्ग पर मौजूद रहे। दूसरी ओर शुक्रवार दोपहर तक भी हाईवे-58 वन-वे नहीं था। दोपहर बाद जैसे ही मुख्यमंत्री के आने की सूचना आई तो आनन-फानन में हाईवे वन-वे कर दिया गया।

You May Also Like

English News