रवांडा के ऐतिहासिक दौरे पर PM मोदी, 20 करोड़ डॉलर कर्ज की पेशकश

रवांडा के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वहां के राष्ट्रपति पॉल कागमे के साथ विस्तृत बातचीत की और व्यापार एवं कृषि के क्षेत्र में सहयोग मजबूत करने के उपायों पर चर्चा की. प्रधानमंत्री ने रवांडा के लिए 20 करोड़ डॉलर के कर्ज की पेशकश भी की.रवांडा के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वहां के राष्ट्रपति पॉल कागमे के साथ विस्तृत बातचीत की और व्यापार एवं कृषि के क्षेत्र में सहयोग मजबूत करने के उपायों पर चर्चा की. प्रधानमंत्री ने रवांडा के लिए 20 करोड़ डॉलर के कर्ज की पेशकश भी की.  राष्ट्रपति कागमे के साथ बातचीत के बाद मोदी ने घोषणा की कि भारत जल्द रवांडा में अपना दूतावास खोलेगा. रवांडा में मीडिया को दिये गए संयुक्त बयान में मोदी ने कहा, 'हमलोग रवांडा में एक उच्चायोग खोलने जा रहे हैं. इससे दोनों देशों की संबंधित सरकारों के बीच ना सिर्फ संवाद स्थापित होगा बल्कि वाणिज्य संबंधी, पासपोर्ट, वीजा के लिए सुविधाएं भी सुनिश्चित होंगी.'  उन्होंने कहा कि भारत और रवांडा के संबंध समय की कसौटी पर खरे उतरे हैं. मोदी ने कहा, 'यह हमारे लिए गौरव की बात की है कि भारत रवांडा की आर्थिक विकास की यात्रा में उसके साथ खड़ा है.' उन्होंने कहा कि भारत रवांडा के विकास में सहयोग जारी रखेगा.  दोनों देशों ने चमड़ा एवं इससे संबद्ध क्षेत्रों और कृषि अनुसंधान के क्षेत्र में समझौतों पर हस्ताक्षर किए. भारत ने कई औद्योगिक पार्क के विकास एवं रवांडा में किगाली विशेष आर्थिक क्षेत्र (एसईजेड) के लिए 10 करोड़ डॉलर और कृषि के लिए 10 करोड़ डॉलर का कर्ज देने की पेशकश की.  आपसी बातचीत के बाद दोनों नेताओं ने कारोबार एवं निवेश, क्षमता निर्माण, विकासात्मक सहयोग और दोनों देशों के बीच संबंध में भागीदारी मजबूत करने के लिए प्रतिनिधिमंडल स्तरीय बातचीत में भी हिस्सा लिया.  View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter  Narendra Modi ✔ @narendramodi  Wonderful interaction with the Indian diaspora in Rwanda.   In every part of the part of the world, the Indian diaspora is distinguishing itself and making us proud of their accomplishments.   Rwanda’s Indian community is a very positive influence on the India-Rwanda friendship.  1:44 AM - Jul 24, 2018 13.6K 3,184 people are talking about this Twitter Ads info and privacy राष्ट्रपति कागमे ने अपनी टिप्पणी में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की यह यात्रा रवांडा एवं भारत के बीच लंबे समय से कायम मित्रता एवं सहयोग में मील का पत्थर दर्शाती है. संसाधान सम्पन्न इस महाद्वीप में भारत की पहुंच कायम करने के इरादे से मोदी अफ्रीका के तीन देशों की अपनी यात्रा के पहले चरण में सोमवार रात रवांडा पहुंचे. मोदी इस पूर्वी अफ्रीकी देश की यात्रा करने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री बन गए हैं.  मोदी की रवांडा यात्रा अपने आप में महत्वपूर्ण है. यह किसी भारतीय प्रधानमंत्री की पहली यात्रा है. रवांडा अफ्रीका की तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक है.  विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, 'एक करीबी मित्र एवं रणनीतिक साझेदार द्वारा विशेष स्वागत! तीन देशों की यात्रा के पहले चरण में रवांडा पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का रवांडा के राष्ट्रपति पॉल कागमे ने किगाली अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा पर स्वागत किया. किसी भारतीय प्रधानमंत्री की यह पहली रवांडा यात्रा है.'  प्रधानमंत्री वहां 'जिनोसाइड मेमोरियल' का दौरा करेंगे और कागमे द्वारा शुरू की गई रवांडा की एक राष्ट्रीय सामाजिक सुरक्षा योजना 'गिरींका' (प्रति परिवार एक गाय) पर आयोजित कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे.

राष्ट्रपति कागमे के साथ बातचीत के बाद मोदी ने घोषणा की कि भारत जल्द रवांडा में अपना दूतावास खोलेगा. रवांडा में मीडिया को दिये गए संयुक्त बयान में मोदी ने कहा, ‘हमलोग रवांडा में एक उच्चायोग खोलने जा रहे हैं. इससे दोनों देशों की संबंधित सरकारों के बीच ना सिर्फ संवाद स्थापित होगा बल्कि वाणिज्य संबंधी, पासपोर्ट, वीजा के लिए सुविधाएं भी सुनिश्चित होंगी.’

उन्होंने कहा कि भारत और रवांडा के संबंध समय की कसौटी पर खरे उतरे हैं. मोदी ने कहा, ‘यह हमारे लिए गौरव की बात की है कि भारत रवांडा की आर्थिक विकास की यात्रा में उसके साथ खड़ा है.’ उन्होंने कहा कि भारत रवांडा के विकास में सहयोग जारी रखेगा.

दोनों देशों ने चमड़ा एवं इससे संबद्ध क्षेत्रों और कृषि अनुसंधान के क्षेत्र में समझौतों पर हस्ताक्षर किए. भारत ने कई औद्योगिक पार्क के विकास एवं रवांडा में किगाली विशेष आर्थिक क्षेत्र (एसईजेड) के लिए 10 करोड़ डॉलर और कृषि के लिए 10 करोड़ डॉलर का कर्ज देने की पेशकश की.

आपसी बातचीत के बाद दोनों नेताओं ने कारोबार एवं निवेश, क्षमता निर्माण, विकासात्मक सहयोग और दोनों देशों के बीच संबंध में भागीदारी मजबूत करने के लिए प्रतिनिधिमंडल स्तरीय बातचीत में भी हिस्सा लिया.

राष्ट्रपति कागमे ने अपनी टिप्पणी में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की यह यात्रा रवांडा एवं भारत के बीच लंबे समय से कायम मित्रता एवं सहयोग में मील का पत्थर दर्शाती है.

संसाधान सम्पन्न इस महाद्वीप में भारत की पहुंच कायम करने के इरादे से मोदी अफ्रीका के तीन देशों की अपनी यात्रा के पहले चरण में सोमवार रात रवांडा पहुंचे. मोदी इस पूर्वी अफ्रीकी देश की यात्रा करने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री बन गए हैं.

मोदी की रवांडा यात्रा अपने आप में महत्वपूर्ण है. यह किसी भारतीय प्रधानमंत्री की पहली यात्रा है. रवांडा अफ्रीका की तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, ‘एक करीबी मित्र एवं रणनीतिक साझेदार द्वारा विशेष स्वागत! तीन देशों की यात्रा के पहले चरण में रवांडा पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का रवांडा के राष्ट्रपति पॉल कागमे ने किगाली अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा पर स्वागत किया. किसी भारतीय प्रधानमंत्री की यह पहली रवांडा यात्रा है.’

प्रधानमंत्री वहां ‘जिनोसाइड मेमोरियल’ का दौरा करेंगे और कागमे द्वारा शुरू की गई रवांडा की एक राष्ट्रीय सामाजिक सुरक्षा योजना ‘गिरींका’ (प्रति परिवार एक गाय) पर आयोजित कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे.

You May Also Like

English News