विदेश जाने वाले छात्रों को वेंकैया का मंत्र- पढ़ो, कमाओ और मातृभूमि लौट आओ

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए विदेश जाने वाले छात्रों से स्वदेश वापस आने की अपील की है. उन्होंने उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए विदेश जाने वाले छात्रों से कहा कि उन्हें एक समय पर वापस आकर देश की सेवा करनी चाहिए.विदेश जाने वाले छात्रों को वेंकैया का मंत्र- पढ़ो, कमाओ और मातृभूमि लौट आओ

स्वदेश आकर मातृभूमि की सेवा करें

नायडू ने गुरुवार को डॉ. डीवाई पाटिल विद्यापीठ के दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए यह बात कही. उपराष्ट्रपति ने कहा, मैं समझता हूं कि कई छात्र स्नातक की पढ़ाई पूरी करके भारत या विदेश में उच्च शिक्षण संस्थानों में आगे की शिक्षा हासिल करना चाहेंगे. अपने करियर की संभावनाओं को बढ़ाने में कुछ गलत नहीं है, लेकिन मेरी सलाह हर किसी को है कि जो विदेश जाता है वह वापस आए और मातृभूमि की सेवा करे. 

मातृभूमि को नहीं भूलना चाहिए

नायडू ने कहा, ‘जाओ, पढ़ो, कमाओ और मातृभूमि लौट आओ. उपराष्ट्रपति ने कहा कि अपनी मातृ भाषा, जन्मस्थान और मातृभूमि को नहीं भूलना चाहिए. उनके लिए देशभक्ति की परिभाषा देश प्रेम है. नायडू ने कहा कि देश का मतलब सिर्फ सीमाएं नहीं है, बल्कि इसमें लोग शामिल हैं, भले ही उनकी जाति और पंथ कोई भी हो. उन्होंने कहा कि हमारे पास भले ही विभिन्न भाषाएं और धर्म हों, लेकिन विविधता में एकता है और यही एकता हमारी संस्कृति और विरासत है.

You May Also Like

English News