शादी के 12 साल बाद पति बोला यह मेरी पत्‍नी नहीं बहन है, जानें क्‍या है माजरा

यहां मामूली बात पर झगड़ा हो जाने के बाद पत्नी द्वारा पति काे राखी बांधने का मामला लोगों के लाख प्रयास के बावजूद सुलझ नहीं रहा। आहत पति तीन काउंसलिंग के बाद भी पत्नी को अपनाने को तैयार नहीं है। वह कहता है राखी बांधने के बाद यह तो मेरी बहन बन गई। अब वह उसे अपनी पत्नी नहीं मान सकता और जल्दी ही तलाक के लिए कोर्ट में अर्जी दाखिल करेगा। दूसरी ओर, पत्नी अपनी गलती पर माफी मांग रही है और वह इस विवाद को खत्म करना चाहती है।

रक्षाबंधन के दिन मामूली विवाद में पत्नी द्वारा पति को राखी बांधने का मामला

दरअसल, शहर के एक मोहल्ला निवासी युवक ने पिछले सप्ताह पुलिस को शिकायत दी थी कि उसकी पत्नी ने रक्षाबंधन के दिन उसकी कलाई में हाथ में राखी बांध दी। ऐसे में वह अब उसके साथ नहीं रह सकता। इससे समाज में उसकी छवि खराब हुई। बेइज्जती के कारण वह घर से बाहर भी नहीं निकल पा रहा। बता दें कि दोनों की शादी के 12 साल हो चुके हैं और उनके दो बच्‍चे भी हैं।

पुलिस ने इस मामले को कम्युनिटी लाइजिंग ग्रुप के पास भेज दिया था, ताकि काउंसिलिंग से पति-पत्‍नी का विवाद समाप्‍त कराया जा सके। वहां पत्नी ने तर्क दिया था कि उसका पति शराब पीने का आदी है। इस कारण वह उससे परेशान हो चुकी है और कहाुसनी में उसने गुस्‍से में पति काे राखी बांध दी।

You May Also Like

English News