शुगर को कंट्रोल में रखती है गुड़हल की चाय

गलत खान पान और बदलती जीवनशैली के कारण आजकल ज्यादातर लोग मोटापे की समस्या से परेशान रहते हैं. अपने वजन को कम करने के लिए लोग तरह-तरह की दवाइयां, मशीनें, क्रीम, तेल और डाइटिंग का सहारा लेते हैं, पर कोई फायदा नहीं होता है. इन चीजों का इस्तेमाल करने से आपकी सेहत को बहुत सारे साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं. आज हम आपको कुछ ऐसे फूलों की चाय के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका सेवन करने से आपका वजन आसानी से कम हो जाएगा. गलत खान पान और बदलती जीवनशैली के कारण आजकल ज्यादातर लोग मोटापे की समस्या से परेशान रहते हैं. अपने वजन को कम करने के लिए लोग तरह-तरह की दवाइयां, मशीनें, क्रीम, तेल और डाइटिंग का सहारा लेते हैं, पर कोई फायदा नहीं होता है. इन चीजों का इस्तेमाल करने से आपकी सेहत को बहुत सारे साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं. आज हम आपको कुछ ऐसे फूलों की चाय के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका सेवन करने से आपका वजन आसानी से कम हो जाएगा.     1- आयुर्वेद में चमेली के फूलों को बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है. चमेली की चाय शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करती है. रोजाना चमेली की चाय का सेवन करने से वजन कम होता है और दिल की बीमारियों के होने का खतरा भी कम हो जाता है. इसके अलावा चमेली ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल में रखती है.   2- गुड़हल का फूल देखने में जितना खूबसूरत होता है उतना ही सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है. गुड़हल के फूल में भरपूर मात्रा में विटामिंस, मिनरल्स, फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं. जो कैंसर, पेट की चर्बी, डिप्रेशन, कोलेस्ट्रॉल और डायबिटीज जैसी बीमारियों को दूर करने में मदद करते हैं. इसके अलावा गुड़हल की चाय पीने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं.     गुड़हल की चाय बनाने के लिए गुड़हल के सूखे पत्तों को लेकर एक कप पानी में डालकर उबालें. जब ये उबल जाए तो इसे छानकर इसमें नींबू का रस और शहद मिलाकर पिए.

1- आयुर्वेद में चमेली के फूलों को बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है. चमेली की चाय शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करती है. रोजाना चमेली की चाय का सेवन करने से वजन कम होता है और दिल की बीमारियों के होने का खतरा भी कम हो जाता है. इसके अलावा चमेली ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल में रखती है. 

2- गुड़हल का फूल देखने में जितना खूबसूरत होता है उतना ही सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है. गुड़हल के फूल में भरपूर मात्रा में विटामिंस, मिनरल्स, फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं. जो कैंसर, पेट की चर्बी, डिप्रेशन, कोलेस्ट्रॉल और डायबिटीज जैसी बीमारियों को दूर करने में मदद करते हैं. इसके अलावा गुड़हल की चाय पीने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं. 

गुड़हल की चाय बनाने के लिए गुड़हल के सूखे पत्तों को लेकर एक कप पानी में डालकर उबालें. जब ये उबल जाए तो इसे छानकर इसमें नींबू का रस और शहद मिलाकर पिए.

You May Also Like

English News