संकट से जूझ रही ऑस्ट्रेलिया को मिली बड़ी खबर, टीम ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

बॉल टेंपरिंग की वजह से क्रिकेट की दुनिया में अपनी साख के संकट से जूझ रही ऑस्ट्रेलियाई टीम बुरे दौर से गुजर रही है. इस बीच उनके लिए भारत के मैदान से बड़ी खबर आई है. दरअसल, ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेट टीम ने टी-20 इंटरनेशनल में इतिहास रच दिया है. शनिवार को ऑस्ट्रेलिया की महिलाओं ने टी-20 का सबसे बड़ा स्कोर खड़ा किया और इंग्लैंड को हराकर टी-20 ट्राई सीरीज जीत ली.संकट से जूझ रही ऑस्ट्रेलिया को मिली बड़ी खबर, टीम ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्डमुंबई के ब्रेबॉर्न स्टेडियम में खेली गई-20 ट्राई सीरीज के फाइनल में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 209/4 रन बनाए. महिला टी-20 इंटरनेशनल में यह महज दूसरा मौका है, जब किसी टीम ने एक पारी में 200 से ज्यादा रन बनाए हों. इससे पहले साउथ अफ्रीका की टीम ने 2010 में नीदरलैंड्स के खिलाफ 205/1 रन बनाए थे.

ऑस्ट्रेलिया की पारी में 32 चौके लगे, जो टी-20 इंटरनेशनल का वर्ल्ड रिकॉर्ड हैं. पुरुषों की टीम ने भी टी-20 इंटरनेशनल में इतने चौके नहीं लगाए हैं. इससे पहले श्रीलंका की पुरुष टीम ने जोहानिसबर्ग में केन्या के खिलाफ टी-20 वर्ल्ड कप-2007 में 30 चौके लगाए थे. 

ऑस्ट्रेलिया की रिकॉर्ड पारी के दौरान मेग लैनिंग ने 45 गेंदों में नाबाद 88 रनों की धमाकेदार पारी खेली. टी-20 इंटरनेशनल के किसी टूर्नामेंट के फाइनल का यह सबसे बड़ा निजी स्कोर है. पुरुषों की टीम में भी किसी खिलाड़ी ने फाइनल में इतने रन नहीं बनाए हैं.

210 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लिश टीम निर्धारित 20 ओवरों में 152/9 रन ही बना पाई और ऑस्ट्रेलिया ने 57 रनों से जीत हासिल की. इस सीरीज में तीसरी टीम मेजबान भारत की थी.

You May Also Like

English News