सर्दियों में रहना है सेहतमंद तो रखें इन बातों का ध्यान

सर्दियां अपने साथ स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभाव भी लेकर आती है, इस बात को ध्यान में रखते हुए लोगों को यह बताना जरूरी है कि वह खुद को बीमारियों से कैसे बचाएं और सर्दियों का पूरा मजा कैसे लें। इस बारे में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के मानद महासचिव पद्मश्री डॉ. के. के. अग्रवाल ने कहा, “यह माना हुआ तथ्य है कि सर्दियों में दिल और दिमाग के दौरे व कार्डियक अरेस्ट की वजह से मृत्यु दर बढ़ने लगती है। इसके कई कारण है। पहला तो दिन छोटे हो जाते हैं जिससे हार्मोन्स में असंतुलन पैदा होता है और शरीर में विटामिन डी की कमी आती है जिससे दिल और दिमाग पड़ने की प्रबल संभावना होती है।”

सर्दियों में रहना है सेहतमंद तो रखें इन बातों का ध्यान

उन्होंने कहा कि ठंडे मौसम में दिल की धमनियां सिकुड़ जाती हैं जिससे दिल को रक्त और ऑक्सीजन की कमी हो जाती है। इससे ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है। ठंडे मौसम में खास कर उम्रदराज लोगों को अवसाद घेर लेता है, जिससे उनमें तनाव और हाईपरटेंशन काफी बढ़ जाता है। सर्दियों के अवसाद से पीड़ित लोग अक्सर ज्यादा चीनी, ट्रांस फैट और सोडियम व ज्यादा कैलोरी वाला आरामदायक भोजन खाने लगते हैं जो मधुमेह और हाइपरटेंशन से पीड़ित लोगों के लिए यह बहुत ही खतरनाक हो सकता है।

नियमित करेंगे योग तो हमेशा रहेंगे निरोग

इन बातों का रखें ध्यान :

* अच्छी सेहत के लिए सोलेबल और इनसोलेबल फाइबर से भरपूर आहार लें, जिसमें इसबगोल का छिलका, सेब, ओन ब्रैन और दालें खाएं। इनसोलेबल में संपूर्ण अनाज, ब्रोकली, सूखे मेवे, सीडज और वेजीटेबल स्किन शामिल होते हैं। फाईबर कई गंभीर बीमारियों से रक्षा करता है। फाइबर अपच सिंड्रोम में भी मदद करता है।

* खूब धूप सेकें। 80 से 90 प्रतिशत लोग विटामिन डी की कमी से पीड़ित हैं जो सर्दी के अवसाद, जोड़ों के दर्द, रोग प्रतिरोधक क्षमता में कमी का कारण बनता है। इससे सर्दियों में काफी धूप लें।

 * उचित मात्रा में पानी पीने से ऊर्जा और बेहतर पाचन बना रहता है। अपने दिन की शुरुआत नाश्ते से पहले आधा लीटर पानी पीकर करें और हर घंटे बाद उचित मात्रा में पानी पीते रहें।

* कच्चे फल, सब्जियां, अंकुरित अनाज, सूखे मेवे, बीज और ताजा जड़ी बूटियां अपने आहार में शामिल करें। कच्चे आहार एनजाइम, विटामिन और रोग प्रतिरोधक एंटीऑक्सीडेंट प्रदान करते हैं।

* धूम्रपान छोड़ें! धूम्रपान वालों में अस्थमा और सांस की बीमारियां सर्दियों में आम हो जाती हैं जो दिल के दौरे का खतरा भी बढ़ाती हैं।

* अच्छे भोजन में सात रंग और 6 स्वाद शामिल होते हैं। लाल सेब लाईकोपीन, हरी पत्तेदार सब्जियों और फलों में बी काम्पलेक्स और नारंगी वस्तुओं से विटामिन सी मिलता है। इसी तरह मीठे, कसैले और नमकीन स्वाद वजन बढ़ाते हैं, तीखे, खट्टे और कड़वे स्वाद वजन कम करते हैं।

 

You May Also Like

English News