सीमा पर तैनात सैनिकों के लिए राखी बनाने में जुटे बच्चे

देश की सीमाओं पर तैनात सैनिक भाइयों तक राखी पहुंचाने के लिए दैनिक जागरण हर वर्ष भारत रक्षा पर्व के अंतर्गत समूचे देश में राखी एकत्र करने के लिए रथ चलाता है। इस रथयात्रा के जरिये देश की बहनों की राखी सीमा पर देश की रक्षा के लिए तैनात सैनिक भाइयों को भेजी जाती है। यह रथ चार अगस्त को गोरखपुर आएगा। स्कूलों में बच्चे सैनिकों के लिए राखी व ग्रीटिंग्स कार्ड बनाने में जुट गए हैं। मंगलवार को चार स्कूलों में ‘राखी बनाओ’ प्रतियोगिता आयोजित की गई और बच्चों को पुरस्कृत किया गया।देश की सीमाओं पर तैनात सैनिक भाइयों तक राखी पहुंचाने के लिए दैनिक जागरण हर वर्ष भारत रक्षा पर्व के अंतर्गत समूचे देश में राखी एकत्र करने के लिए रथ चलाता है। इस रथयात्रा के जरिये देश की बहनों की राखी सीमा पर देश की रक्षा के लिए तैनात सैनिक भाइयों को भेजी जाती है। यह रथ चार अगस्त को गोरखपुर आएगा। स्कूलों में बच्चे सैनिकों के लिए राखी व ग्रीटिंग्स कार्ड बनाने में जुट गए हैं। मंगलवार को चार स्कूलों में 'राखी बनाओ' प्रतियोगिता आयोजित की गई और बच्चों को पुरस्कृत किया गया।  सीमा पर सैनिक भाइयों को राखी भेजने की तैयारियां स्कूलों में तेजी से चल रही हैं। ये राखियां चार अगस्त को भारत रक्षा पर्व के रथ को सौंपी जाएंगी। इसके पूर्व दो व तीन अगस्त को दैनिक जागरण का स्थानीय रथ शहर में भ्रमण करेगा और राखियां एकत्र करेगा। रथ के साथ थोक वस्त्र व्यवसायी वेलफेयर संघ के लोग रहेंगे। इसके अलावा राखियां एकत्र करने के लिए पांच जगह ड्रॉप बाक्स भी लगा दिए गए हैं।    बच्चों के लिए समन्वय बनाकर करें कार्य अफसर : प्रेमा मिश्रा यह भी पढ़ें रथ का जगह-जगह जहां स्कूली बच्चों, विभिन्न समुदायों व संगठनों के लोगों द्वारा स्वागत किया जाएगा वहीं राखी व ग्रीटिंग्स भी भेंट किए जाएंगे। रथ के आगमन पर दैनिक जागरण कार्यालय में रथ का स्वागत व सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे। सांस्कृतिक कार्यक्रम लोरेटो, सिविल लाइंस, एचपी डिफेंस एकेडमी, नंदानगर, एसएस एकेडमी, सरस्वती बालिका विद्यालय, सूर्यकुंड, नवल नेशनल एकेडमी, कुसम्ही के बच्चे प्रस्तुत करेंगे।  दैनिक जागरण सैनिक भाइयों को राखी पहुंचाने के साथ ही यह संदेश देता है कि देश में उनकी भी रक्षा की चिंता है और यह रक्षा सूत्र इसी का परिचायक है। रक्षाबंधन के दिन यह रक्षा सूत्र सीमा पर पहुंच जाते हैं तथा उनकी कलाइयों पर वहां की स्कूली छात्राएं व विभिन्न समुदायों की बहनों द्वारा राखी बांधी जाती है।

सीमा पर सैनिक भाइयों को राखी भेजने की तैयारियां स्कूलों में तेजी से चल रही हैं। ये राखियां चार अगस्त को भारत रक्षा पर्व के रथ को सौंपी जाएंगी। इसके पूर्व दो व तीन अगस्त को दैनिक जागरण का स्थानीय रथ शहर में भ्रमण करेगा और राखियां एकत्र करेगा। रथ के साथ थोक वस्त्र व्यवसायी वेलफेयर संघ के लोग रहेंगे। इसके अलावा राखियां एकत्र करने के लिए पांच जगह ड्रॉप बाक्स भी लगा दिए गए हैं।

रथ का जगह-जगह जहां स्कूली बच्चों, विभिन्न समुदायों व संगठनों के लोगों द्वारा स्वागत किया जाएगा वहीं राखी व ग्रीटिंग्स भी भेंट किए जाएंगे। रथ के आगमन पर दैनिक जागरण कार्यालय में रथ का स्वागत व सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे। सांस्कृतिक कार्यक्रम लोरेटो, सिविल लाइंस, एचपी डिफेंस एकेडमी, नंदानगर, एसएस एकेडमी, सरस्वती बालिका विद्यालय, सूर्यकुंड, नवल नेशनल एकेडमी, कुसम्ही के बच्चे प्रस्तुत करेंगे।

दैनिक जागरण सैनिक भाइयों को राखी पहुंचाने के साथ ही यह संदेश देता है कि देश में उनकी भी रक्षा की चिंता है और यह रक्षा सूत्र इसी का परिचायक है। रक्षाबंधन के दिन यह रक्षा सूत्र सीमा पर पहुंच जाते हैं तथा उनकी कलाइयों पर वहां की स्कूली छात्राएं व विभिन्न समुदायों की बहनों द्वारा राखी बांधी जाती है।

You May Also Like

English News