1 सितंबर से बंद हो जाएगी Indian Railway की यह फ्री सेवा

ट्रेन में आरक्षित टिकट पर सफर करने वालें यात्रियों के लिए जरूरी खबर. अभी तक आईआरसीटीसी की तरफ से फ्री में उपलब्ध कराई जाने वाली सर्विस पर 1 सितंबर से चार्ज लिया जाएगा. ऐसे में टिकट बुकिंग के लिए आपको पहले के मुकाबले थोड़ा ज्यादा पैसा खर्च करना होगा. आपको बता दें कि आईआरसीटीसी की ओर से 1 सितंबर से ई- टिकट पर दी जाने वाली मुफ्त ट्रेवल इंश्योरेंस की सुविधा को बंद किया जा रहा है. अब अगर आप इंश्योरेंस की सुविधा लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अतिरिक्त भुगतान करना होगा. यानी आप इंश्योरेंस लेना चाहते हैं तो अतिरिक्त भुगतान करना जरूरी है.1 सितंबर से बंद हो जाएगी Indian Railway की यह फ्री सेवा

दिसंबर 2017 मिल रही थी सुविधा
रेलवे के इस फैसले के बाद सफर करने वाले यात्री की इच्छा पर निर्भर करेगा कि वह इंश्योरेंस कराना चाहता है या नहीं. आपको बता दें कि आईआरसीटीसी दिसंबर 2017 से यात्रियों को फ्री इंश्योरेंस की सुविधा दे रहा है. उस समय आईआरसीटीसी की तरफ से फ्री इंश्योरेंस की सुविधा डिजीटल ट्रांजेक्शन को प्रमोट करने के लिए दी गई थी. उस समय आईआरसीटीसी ने डेबिट कार्ड से टिकट का भुगतान करने पर लगने वाले चार्ज को भी खत्म कर दिया था.

सभी श्रेणियों में मिलती है सुविधा
आईआरसीटीसी की तरफ से इंश्योरेंस की सुविधा स्लीपर, एसी और चेयरकार सभी श्रेणियों में दी जाती है. इसके तहत कोई हादसा होने पर अधिकतम 10 लाख रुपये का कवर होता है. सफर के दौरान यदि किसी हादसे से यात्री की मौत हो जाती है तो 10 लाख रुपये मिलने का प्रावधान है. पर्मानेंट या पार्शल डिसएबिलिटी होने पर 7.5 लाख रुपये का प्रावधान है. घायलों को दो लाख रुपये दिए जाते हैं.

रेलवे की तरफ से 5 साल से कम उम्र वाले बच्चों का इंश्योरेंस नहीं किया जाता. ट्रैवल इंश्योरेंस के लिए आईआरसीटीसी ने आईसीआईसीआई लोम्बर्ड जनरल इंश्योरेंस, रॉयल सुंदरम जनरल इंश्योरेंस और श्रीराम जनरल इंश्योरेंस से करार किया हुआ है. नई नियम के तहत 1 सितंबर से एक टिकट पर इंश्योरेंस के लिए 92 पैसे का भुगतान करना होगा, टैक्स समेत यह करीब एक रुपये होगा.

You May Also Like

English News