पाक विदेश मंत्री ने भारत और इजराइल को इस्लाम विरोधी कहा, जानिए क्यों?

नई दिल्ली: इजरायल के पीएम के भारत दौरे को लेकर पड़ोसी देश पाकिस्तन बौखला गया है। भारत और इजरायल की बढ़ती नजदीकियों से पाकिस्तान के सियासी गलियारों में खलबली मच गयी है। इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू के 6 दिन के भारत दौरे से दुनिया भर के देशों की नजर भारत पर है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने पाक चैनल को दिए इंटरव्यू में यह तल्खी साफ दिखाई दी। आसिफ ने कहा कि भारत और इजरायल की बढ़ती नजदीकी के बावजूद पाकिस्तान अपनी रक्षा खुद कर सकता है।


आसिफ ने कहा कि इजरायल उस हिस्से पर कब्जा करने की कोशिश कर रहा है जो मुस्लिमों का है यह ठीक वैसे ही है जैसे भारत कश्मीर में मुस्लिमों की जमीनों पर कब्जा कर रहा है।

इजरायल और भारत का मकसद एक ही है। आसिफ ने कहा कि पाकिस्तान ने इजरायल को कभी भी महत्व नहीं दिया। भारत और इजरायल के बीच गठजोड़ इसीलिए हुआ है क्योंकि दोनों देश इस्लाम विरोधी हैं। आसिफ ने यह भी कहा कि पाक का फिलिस्तीन के नागरिकों के साथ भावनात्मक जुड़ाव है।

उन्होंने कश्मीर मुद्दे पर कहा कि यह पाकिस्तान के अस्तित्व से संबंधित है। इजरायल और भारत के संबंधों से सरकार और देश को घबराने की जरूरत नहीं है। आसिफ ने आतंकवाद पर सफाई देते हुए कहा कि हमारी सेना आतंक से लगातार लड़ रही है और इससे हमारी क्षमताएं भी बढ़ी हैं। उन्होंने कहा कि हमारे सैनिकों ने आतंकवाद से लड़ते हुए बलिदान दिया है।

You May Also Like

English News