42000 शिक्षकों को जल्द मिलेंगी नौकरी, पढ़ें पूरी खबर

समाज के निर्माण में अध्यापक की अहम भूमिका होती है. क्योंकि ये समाज उन्हीं बच्चों से बनता है जिनकी प्राथमिक शिक्षा का जिम्मा एक अध्यापक के कंधों पर होता है. अध्यापक ही है जो उसे समाज में एक अच्छा नागरिक बनाने के साथ उसका सर्वोत्त्म विकास भी करते रहते हैं.  शिक्षा देने के साथ ही वह उसे एक अच्छा नागरिक बननें के लिए भी प्रेरित करता है. देश में मौजूद सभी सफल व्यक्तित्व के पीछे एक गुरु की भूमिका देखे जा सकती है.समाज के निर्माण में अध्यापक की अहम भूमिका होती है. क्योंकि ये समाज उन्हीं बच्चों से बनता है जिनकी प्राथमिक शिक्षा का जिम्मा एक अध्यापक के कंधों पर होता है. अध्यापक ही है जो उसे समाज में एक अच्छा नागरिक बनाने के साथ उसका सर्वोत्त्म विकास भी करते रहते हैं.  शिक्षा देने के साथ ही वह उसे एक अच्छा नागरिक बननें के लिए भी प्रेरित करता है. देश में मौजूद सभी सफल व्यक्तित्व के पीछे एक गुरु की भूमिका देखे जा सकती है.  बता दें कि स्कुलों में टीचर के पद पर चल रही परीक्षा में 68500 आवेदक पास हुए है. इस भर्ती परीक्षा में अभ्यर्थियों के पास होने पर केवल 41556 ही पद भर पाएंगे. जहां जल्द ही भर्तियां चालू हो जाएगी. बता दें कि 21 अगस्त से इसके लिए ऑनलाइन फॉर्म भरे जाए रही हैं. ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि कल यानी कि 28 अगस्त है. आवेदन की अंतिम तिथि के बाद 1से 3 सितम्बर तक काउंसिलिंग की तिथि निर्धारित की गयी है.   इच्छुक उम्मीदवार इसमें अवश्य हिंसा लें. खबरों की माने तो काउंसिलिंग के बाद सभी जिलों में 5 सितम्बर को सभी आवेदको को नियुक्ति पत्र दे दिए जाएंगे.  इसके बाद अभ्यर्थियों के शैक्षिक गुणांक व आरक्षण के आधार पर उन्हें जिलों का आवंटन किया जाएगा.

बता दें कि स्कुलों में टीचर के पद पर चल रही परीक्षा में 68500 आवेदक पास हुए है. इस भर्ती परीक्षा में अभ्यर्थियों के पास होने पर केवल 41556 ही पद भर पाएंगे. जहां जल्द ही भर्तियां चालू हो जाएगी. बता दें कि 21 अगस्त से इसके लिए ऑनलाइन फॉर्म भरे जाए रही हैं. ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि कल यानी कि 28 अगस्त है. आवेदन की अंतिम तिथि के बाद 1से 3 सितम्बर तक काउंसिलिंग की तिथि निर्धारित की गयी है. 

इच्छुक उम्मीदवार इसमें अवश्य हिंसा लें. खबरों की माने तो काउंसिलिंग के बाद सभी जिलों में 5 सितम्बर को सभी आवेदको को नियुक्ति पत्र दे दिए जाएंगे.  इसके बाद अभ्यर्थियों के शैक्षिक गुणांक व आरक्षण के आधार पर उन्हें जिलों का आवंटन किया जाएगा. 

You May Also Like

English News