‘अमरेंद्र बाहुबली’ से लेकर देवसेना’ तक, हर किरदार की बिंदी में छिपा है गहरा राज

लड़के हो या फिर लड़कियां माथे पर सजा टीका या बिंदी सबको पसंद होती है लेकिन क्या आप जानते हैं कि तरह तरह की ये बिंदिया सिर्फ चेहरे की सुंदरता ही नहीं बढ़ाती बल्कि इसके पीछे एक मतलब भी होता है।

'अमरेंद्र बाहुबली' से लेकर देवसेना' तक, हर किरदार की बिंदी में छिपा है गहरा राजहाल ही में बॉक्स ऑफिस हिट फिल्म बाहुबली 2 में भी आपने हर किरदार को अपने माथे पर लगे अलग-अलग टीके के साथ देखा होगा। आगे की स्लाइड्स में क्लिक करके जानें किस टीके का क्या मतलब होता है। 

अमरेंद्र बाहुबली

अमरेंद्र बाहुबली के माथे पर बना आधा चांद वाला तिलक उनके शांत और दयालु प्रकृति को दर्शाता है। ये बताता है कि बाहुबली लोगों के बीच सबसे प्रिय राजा और एक महान योद्धा हैं। 
'अमरेंद्र बाहुबली' से लेकर देवसेना' तक, हर किरदार की बिंदी में छिपा है गहरा राज

देवसेना
देवसेना की बिंदी लैंगिक समानता का प्रतीक है। फिल्म में भी देवसेना सिर्फ अमरेंद्र बाहुबली का प्यार ही नहीं थी बल्कि एक बहादुर राजकुमारी भी होती है।

 

बिज्जाला देव
बिज्जाला देव के माथे पर बना त्रिशुला वाला तिलक भगवान शिव का प्रतीक है। शिव सृजन, पालनकर्ता और विनाश के लिए माने जाते हैं। दुर्भाग्यवश, जब हम बिज्जाला देव को देखते हैं तो केवल उन्हें विनाश वाले भाग से ही जोड़कर देख सकते हैं। 
 

भल्लाल देव
भल्लाल देव के माथे पर उगते सूरज वाला तिलक फिल्म में महिष्मती के राज्य का प्रतीक है।
 

शिवगामी
शिवगामी के माथे पर लगी गोल्डन ग्लिटर वाली लाल बड़ी बिंदी उसके तेज तर्रार स्वभाव की प्रतीक है। उसकी बिंदी किसी आने वाले ज्वालामुखी को प्रदर्शित करती है। उसकी बिंदी पूरी तरह से शिवगामी के चरित्र को सही बताती हैं।
 
 

You May Also Like

English News