Exclusive: सीएम के गृह जनपद के एक व्यक्ति से 15 लाख की ठगी, पढि़ए कैसे?

लखनऊ : सीएम योगी आदित्यनाथ के गृह जनपद गोरखपुर जनपद के रहने वाले एक व्यक्ति को जमीन दिलाने के नाम पर 15 लाख रुपये की ठगी को अंजाम दिया गया। तीन आरोपियों ने उसको मोहनलालगंज इलाके में एक जमीन दिखायी। पसंद आने पर आरोपियों ने उससे 15 लाख रुपये ले लिये। पीडि़त ने जब जमीन की रजिस्ट्री कराने के लिए कहा तो आरोपियों ने उसको टाल दिया। इसके बाद उसने जब अपने रुपये आरोपियों से मांगे तो पीडि़त को धमकी दी गयी। इस संबंध में पीडि़त ने तीन लोगों के खिलाफ गाजीपुर थाने में धमकाने व अमानत में खयानत की रिपोर्ट दर्ज करायी है।

गोरखपुर के रूद्रपुर अलीनगर इलाके में पुष्पकुंज श्रीवास्तव अपने परिवार के साथ रहते हैं। कुछ समय पहले उन्होंने गोरखपुर के ही रहने वाले रूचिर जायसवाल से लखनऊ में जमीन खरीदने के संबंध में बातचीत की। रूचिन ने उसको लखनऊ में जमीन दिलाने की बात कही और गाजीपुर के मुंशी पुलिया प्राइम प्लाज स्थित मूना इंफ्रा जोन प्राइवेट लिमिटेड व नीलेश इंटरप्राइजेज के मालिक शाद खान व नीलेश गुप्ता से मुलाकात करायी।

दोनों ने बताया कि वह लोग जमीन की खरीद-फरोख्त का काम करते हैं और पुष्पकुंज को सस्ते दामों में अच्छी जमीन दिलवा देंगे। इसके बाद दोनों ने पुष्पकुंज को मोहनलालगंज इलाके में एक जमीन के पेपर दिखाये और मौके पर ले जाकर जमीन भी दिखायी। पुष्पकुंज को जमीन पसंद आ गयी। इसके बाद शाद खान व नीलेश गुप्ता ने पुष्पकुंज से जमीन के नाम पर 15 लाख रुपये एडवांस ले लिये। कुछ दिनों के बाद पुष्पकुंज ने जब उन लोगों से जमीन का बैनामा करने के लिए कहा तो उन लोगों ने साफ इंकार कर दिया।

इस पर पीडि़त ने दोनों से अपने रुपये वापस मांगे तो उन लोगों ने पीडि़त को जान से मारने की धमकी दी। अपने साथ हुई ठगी की शिकायत पुष्पकुंज ने सीओ गाजीपुर से की। जांच में आरोप सही पायेंगे। इसके बाद सीओ के आदेश पर गाजीपुर पुलिस ने इस मामले में रूचिर, शाद खान व नीलेश गुप्ता के खिलाफ अमानत में खयानत व धमकाने की रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

You May Also Like

English News