जयकारा लगाने पर कांवडिय़ों को पीटा गया, बवाल, तोडफ़ोड़ व आगजनी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के हरदोई के कासिमपुर इलाके में नहर में नहाते वक्त कांवडिय़ों के जयकारा लगाने से नाराज एक समुदाय के लोगों ने उनकी पिटाई कर दी। इस घटना से नाराज कांवडिय़ों ने जाम लगा दिया। इस घटना से आक्रोशित लोगों ने चौराहे पर बनी दो दुकानों में आग लगा दी। नाराज लोगों ने जमकर तोडफ़ोड़ भी की। बाद में मौके पर पहुंचे पुलिस बल ने किसी तरह हालात पर काबू पाया।

संडीला कोतवाली क्षेत्र के मीतो गांव से कांवडिय़ा रविवार की सुबह गंगा जल लेने जा रहे थे। संडीला बांगरमऊ मार्ग पर शारदा की सहायक नदी में करीब 11 बजे वह लोग स्नान करने लगे। करलावां पुल के पास चौराहा है और वहां पर कई दुकानें भी हैं। कांवडिय़ों का कहना है कि स्नना के बाद वह लोग जयकारा लगा रहे थे। इस बात पर वहीं पर मौजूद दूसरे समुदाय के दुकानदारों ने विरोध करना शुरू कर दिया। तो कांवड़यिों ने भी विरोध किया।

इसके बाद बात बढ़ गई। कांवडिय़ों का कहना था कि जब तक वह लोग कुछ समझ पाते। वहां पर मौजूद लोगों ने पथराव करते हुए उनपर हमला कर दिया और मारापीटा। इस घटना में कांवडिय़ा सत्यम, सूर्या, सुभाष, गोलू, निखिल, संजय, सौरभ यादव,आलोक, आशुतोष घायल हो गए। कांवडिय़ों ने थाने पहुंचकर पूरी बात बताई तब तक हमलावरों ने उनकी झांकी तोड़ डाली। एक बाइक, दो साइकिलए सात मोबाइल, तीन एटीएम लूट लिए।

इस घटना के बाद कांवडिय़े भी आक्रोशित हो गए संडीला-बांगरमऊ मार्ग पर जाम लगा दिया। इस घटना से नाराज लोगों ने कुछ दुकानों में तोडफ़ोड़ करते हुए आग लगा दी। बाद में भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा और किसी तरह हालात पर काबू पाया।

You May Also Like

English News