Big Breaking: एक के बाद एक लखनऊ में कटी चार महिलाओं की चोटियां, मची अफरा-तफरी!

लखनऊ: राजधानी में महिलाओं की चोटी कटने की घटना थमने का नाम नहीं ले रही है। शुक्रवार का दिन चोटी कटने की घटना से भरा रहा। राजधानी लखनऊ के माल, निगोहां, कृष्णानगर व सरोजनीनगर इलाके में चार महिलाओं की चोटियां काट गयी। इस घटना में दो महिलाएं व एक किशोरी बेहोश हो गये और उनको इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


माल के गंगाखेड़ा के मजरा गोड़वा बरौकी में किसान शत्रोहन अपने परिवार के साथ रहता है। बताया जाता है कि रोज की तरह शुक्रवार की सुबह परिवार के सभी लोग सोकर उठे। इस बीच अचानक शत्रोहन की पत्नी पम्पी के चिल्लाने की आवाज लोगों को सुनाई दी। परिवार के लोग दौड़कर पम्पी के पास पहुंचे तो देखा कि पम्पी बेसुध हालत में पड़ी थी और पास में ही उसकी चोटी के कुछ कटे हुए बाल मौजूद थे।

परिवार वालों ने पम्पी की यह हालत देख 108 नम्बर पर फोन किया। सूचना पाकर मौके पर एम्बुलेंस पहुंच गयी। इसके बाद परिवार के लोग पम्पी को इलाज के लिए सीएचसी ले गये। डाक्टरों ने पम्पी का इलाज शुरू किया तो पता चला कि अचानक पम्पी का बीपी बढऩे से वह बेहोश हो गयी थी। फिलहाल पम्पी की हालत स्थिर है, पर वह बोलने की स्थिति में नहीं है। इस बीच पम्पी की चोटी कटने की खबर पूरे गांव में आग की तरह फैल गयी। देखते ही देखते उसको देखने वालों की भीड़ जमा हो गयी। फिलहाल अभी तक यह साफ नहीं हो सका है कि पम्पी के साथ हुआ क्या था। कुछ लोगों का यह कहना है कि पम्पी शौच के लिए गयी, तभी उसके साथ ऐसी घटना घटी है। फिलहाल इस घटना के बाद गांव मेें दहशत का माहौल है।
घर की सफाई कर रही किशोरी की भी चोटी कटी
निगोहां मंगटइया के मजरे बैरी गांव में 18 वर्षीय नंदनी अपने परिवार के साथ रहती है। शुक्रवार की सुबह नंदनी घर पर मौजूद थी और घर की साफ सफाई कर रही थी। इस दौरान उसको घर की दीवार से एक काली बिल्ली दिखायी दी। बिल्ली अचानक ही उसकी तरफ कूदी जिसके बाद उसकी चोटी कट गयी। इस घटना के बाद नंदनी बेहोश हो गयी। बड़ी बहन को बेहोशी की हालत में देख उसकी छोटी बहन रोने लगी और किसी तरह लोगों को इस बारे में बताया। चोटी काटने की सूचना आग की तरह पूरे इलाके में फैल गयी और आसपास गांव के सैकड़ों लोग इक_ा हो गये। चोटी काटने की सूचना ग्रामीणों ने पुलिस कंट्रोल रूम पर दी। वहीं दूसरी तरह घटना के बाद बेहोश किशोरी को पास के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने छानबीन की और फिर इस घटना को अफवाह बताकर लोगों को इस पर ध्यान न देने की बात कही। वहीं किशोरी के साथ हुई चोटी कटने की इस घटना के बाद से गांव में कई तरह की चर्चा है।
पड़ोसी से बात कर रही महिला की कटी चोटी
कृष्णानगर के बरिगवां इलाके में नंदलाल अपने परिवार के साथ रहता है। उसकी पत्नी मालती लोकबंधु अस्पताल में आया का काम करती है। बताया जाता है कि शुक्रवार की सुबह मालती अपने घर के बाहर अपने पड़ोसी की लड़की के साथ बैठी हुई थी। उस दौरान अचानक उसकी चोटी कट गयी। मालती को उस वक्त चोटी कटने का पता नहीं चल सका। उसने जैसे ही अपने बालों में हाथ लगाया तो उसकी चोटी हाथ में आ गयी। अचानक हुई घटना से वहां हड़कम्प मच गया।
नाश्ता बनाते वक्त कटी आटो चालक की पत्नी की चोटी
सरोजनीनगर के बेहसा गांव में रहने वाले आटो चालक शत्रोहन रावत अपने परिवार के साथ रहता है। बताया जाता है कि शुक्रवार की सुबह उसकी पत्नी सीमा बेटी के स्कूल जाने के लिए नाश्ता बना रही थी। इस बीच अचानक सीमा की चोटी कट गयी। चोटी कटते ही सीमा बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़ी। परिवार के लोग जब उसके पास पहुंचे तो उनकी नज़र कटी हुई चोटी पर पड़ी। आनन-फानन में सीमा को इलाज केलिए लोकबुंध अस्पताल में भर्ती कराया गया। महिला की चोटी कटने की इस घटना से पूरे इलाके में हड़कम्प मच गया।

You May Also Like

English News