स्कूल हास्टल में बच्चों से घिनौनी हरकत, लोगों ने की तोडफ़ोड़ और हंगाम !

लखनऊ: राजधानी लखनऊ के बाजारखाला के पुराना हैदरगंज इलाके में स्थित एक स्कूल व उसके हास्टल में रहने वाले छात्र-छात्राओं के शारीरिक उत्पीडऩ की घटना सामने आयी है। स्कूल में पढऩे वाले कक्षा पंाच के एक छात्र की सात अगस्त को मौत हो गयी थी। छात्र के घरवालों ने एक सीनियर छात्र पर बच्चे के साथ दुष्कर्म का आरोप लगाया था। इस मामले में अब पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की है। वहीं गुरुवार को इसी स्कूल में पढऩे वाली एक छात्रा भी परिवार वालों के साथ पुलिस के पास पहुंची और उसने भी शारीरिक शोषण का आरोप लगाया। पुलिस ने छात्रा की भी शिकायत पर स्कूल प्रबंधन व अज्ञात सीनियर छात्रों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

 


इंस्पेक्टर बाजारखाला सुजीत दूबे ने बताया कि ठाकुरगंज के कैम्पवेल रोड इलाके में रहने वाले 12 साल का किशोर बाजारखाला के पुराना हैदरगंज स्थित बल्लभ मेमोरियल स्कूल में कक्षा पांच में पढ़ता था और स्कूल के ही हास्टल में रहता था। बच्चे की 5 अगस्त को अचानक तबियत खराब हो गयी थी। परिवार के लोग उसको इलाज के लिए बलरामपुर अस्पताल ले गये थे, जहां से उसको ट्रामा सेंटर रिफर कर दिया गया था।

सात अगस्त को बच्चे की मौत हो गयी। इसके बाद परिवार वालों ने उसका अंतिम संस्कार कर दिया। बच्चे के अंतिम संस्कार के बाद परिवार के लोग बाजारखाला पुलिस के पास पहुंचे और बताया कि उनके बच्चे के साथ हास्टल में रहने वाला कक्षा-8 का एक छात्र दुष्कर्म करता था। इसी के चलते उनके बेटे की मौत हो गयी। परिवार वालों ने इस संबंध में तहरीर भी दी थी। पुलिस ने उन लोगों को जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया था। कई दिनों से पुलिस जांच की बात कह रही थी।

गुरुवार को बच्चे के परिवार वालों का सब्र का बांध टूट गया और उन लोगों ने स्कूल पहुंचकर हंगामा शुरू कर दिया। हंगामा की सूचना पाकर मौके पर बाजारखाला पुलिस भी पहुंच गयी। पुलिस किसी तरह बच्चे के परिवार वालों को अपने साथ कोतवाली ले आयी। इसके बाद पुलिस ने इस मामले में बच्चे के पिता की तहरीर पर स्कूल के प्रबंधन और सीनियर छात्र के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली।

एक छात्रा ने भी लगाया शारीरिक उत्पीडऩ का आरोप
इस बीच एक छात्रा भी अपने परिवार वालों के साथ बाजारखाला पुलिस के पास पहुंची। छात्रा व उसके परिवार वालों ने बताया कि वह भी उसी स्कूल में पढ़ती थी। 30 जुलाई को भी छात्रा की तबियत खराब हो गयी थी। इसके बाद परिवार के लोग छात्रा को घर ले आये थे। कुछ दिन के बाद छात्रा ने परिवार वालों को बताया कि उसको सीनियर छात्रों के साथ कमरे में रहने के लिए कहा गया था। छात्रा का आरोप है कि इस दौरान सीनियर छात्र उसका शारीरिक शोषण भी करते थे। यहां तक कि उसको ढंग से खाना भी नहीं दिया जाता था और मारपीट भी की जाती थी। छात्रा के इस आरोप को भी बाजारखाला पुलिस ने गंभीरता से लेते हुए स्कूल प्रबंधन और सीनियर छात्रों के खिलाफ दूसरी एफआईआर दर्ज कर ली।

स्कूल में तोडफ़ोड़ और थाने के बाहर प्रदर्शन
बल्लभ मेमोरियल स्कूल में बच्चों के शारीरिक शोषण की घटना को लेकर नाराज अभिभावकों व लोगों ने स्कूल पर धावा बोल दिया। नाराज लोगों ने पहले तो वहां जमकर तोडफ़ोड़ व हंगामा किया। तोडफ़ोड़ की सूचना पर पहुंची बाजारखाला पुलिस ने किसी तरह लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया और कोतवाली लेकर पहुंची। कोतवाली के बाहर भी इस घटना के विरोध में लोगों ने जमकर नारेबाजी व प्रदर्शन किया। बाद में पुलिस ने किसी तरह लोगों को उचित कार्रवाई का आश्वासन देते हुए शांत कराया। पुलिस से मिले आश्वासन के बाद लोगों को गुस्सा शांत हुआ।

You May Also Like

English News