देखिये इस तरह लोगो ने नम आंखों से दी बंदर को आखिरी विदाई

मुंबई (महाराष्ट्र)।महाराष्ट्र के एक गांव में एक अनोखा मामला सामने आया है। राज्य के जलगांव जिले के निमगव्हाण गांव में तापी नदी के तट पर रहने वाले एक बंदर की हादसे में मौत हो गई। पूरे गांव ने एक साथ आकर उसका अंतिम संस्कार किया। इतना ही नहीं, दशक्रिया विधि के लिए गांव के लोगों ने पैसे जमा कर भोजन दिया और 200 लोगों ने मुंडन कर शोक जताया। पूरा गांव शामिल हुआ…
देखिये इस तरह लोगो ने नम आंखों से दी बंदर को आखिरी विदाई
– दरअसल, दो महिने पहले एक बंदर तापी नदी के तट पर कहीं से आया था।

ये भी पढ़े: अभी अभी: सीने में दर्द के बाद रेमंड ग्रुप के पूर्व चेयरमैन को अस्पताल में कराया भर्ती…

– छोटे बच्चे और गांव के नागरिक आए दिन उसे खाने के लिए देते थे। बंदर भी लोगों मे अच्छे से घुल-मिल गया था।

– इस बीच 2 अगस्त को सडक दुर्घटना मे उसकी मौत हो गई। अंतिम संस्कार में पूरा गांव शामिल हुआ।
– 10 दिनों बाद दशक्रिया विधि के लिए गांव के सभी लोगों ने पैसे जमा कर भोजन का आयोजन किया और 200 लोगों ने सामुहिक मुंडन कराया।

 

You May Also Like

English News