दुराचारी बाबा राम रहीम की पहली रात जेल में कैसी कटी, जानिए आपभी!

चंडीगढ़: हरियाणा के पंचकुला में शुक्रवार को हुई हिंसा के बाद अब अधिकारियों के अनुसार स्थिति नियंत्रण में है। राम रहीम को दोषी ठहराए जाने के बाद भड़की हिंसा को लेकर एक प्रेस वार्ता करते हुए डीजीपी बीएस संधू और मुख्य सचिव डीएस ढेसी ने बताया कि डेरा प्रमुख को जेल में आम कैदियों की तरह ही रखा गया है और उन्हें कोई वीआईपी ट्रीटमेंट नहीं मिल रहा।

उन्होंने कहा कि डेरा प्रमुख के साथ सुनरिया जेल में सामान्य कैदी की तरह व्यवहार किया जा रहा है। डीजीपी ने बाबा के सिक्योरिटी गार्ड द्वारा हरियाणा पुलिस के आइजी रैंक के अधिकारी को थप्पड़ मारने से भी इंकार किया। डीजीपी के मुताबिक राम रहीम को पुलिस वाहन में बैठाने को लेकर थोड़ी बहस जरूर हुई थीए लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ।

हरियाणा के मुख्य सचिव डीएस ढेसी ने बाबा को वीआइपी ट्रीटमेंट और एसी की सुविधाएं देने को अफवाह बताया। ढेसी के मुताबिक अदालत का फैसला आते ही बाबा की जेड प्लस सुरक्षा खत्म हो गई थी। पहले डेरा प्रमुख को सड़क मार्ग से ले जाना चाहते थेए लेकिन हिंसा के चलते उन्हें हेलीकॉप्टर से ले जाया गया।

इसका खर्च हरियाणा सरकार ने दिया। हिंसा में मारे गए सभी लोग बाहर से हैं और डेरा प्रमुख के समर्थक हैं। मुख्य सचिव ने कहा कि उन्होंने खुद ऑपरेशन की कमान संभाली थी और तीन घंटे के अंदर ही हालात नियंत्रण में थे। राम रहीम के 6 सुरक्षागार्ड समेत दो डेरा समर्थकों पर भी देशद्रोह का केस दर्ज किया गया। हिंसा के चलते 524 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

You May Also Like

English News