#MannKiBaat: पीएम मोदी दिखे नाराज, कहा अस्था के नाम पर हिंसा बर्दाशत नहीं!

नई दिल्ली: देश के पीएम नरेन्द्र मोदी हरियाणा के पंचकूला में हुई हिंसा से काफी नाराज हैं। उनकी यह नाराजगी आज 35वीं बार मन की बात कार्यक्रम में भी देखने को मिली। पीएम ने देश की जनता को साफ कहा कि आस्था के नाम पर हिंसा बिल्कुल बर्दाशत नहीं की जाएगी।


कार्यक्रम की शुरूआत में ही डेरा हिंसा पर नाराजगी जताने से की और स्वच्छता जैसे कई बड़े मुद्दों का जिक्र किया। पीएम ने लोगों से अपील की और कहा कि वे देश की सेवा में आगे का हाथ बटाएं। पीएम मोदी ने डेरा हिंसा पर कड़ी नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि ये देश गौतम बुद्ध और गांधी की धरती है यहां हिंसा को कोई जगह नहीं दी जा सकती।

पंचकूला हिंसा पर उन्होंंने साफ कहा कि आस्था के नाम पर हिंसा बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस तरह की हरकतों को न तो देश और न ही कानून बर्दाश्त करेगा। कानून दोषियों को सजा देकर रहेगा। पीएम ने गणेशोत्सव के साथ-साथ केरल में मनाए जा रहे त्योहार ओणम पर शुभकामनाएं दी। इस बीच पीएम ने ईद-उल-जुहा की भी बधाई दी।

उन्होंने लोगों से अपील की गांधी जयंती से 15 दिन पहले ही स्वच्छता की मुहीम चलाएं। स्वच्छता ही सेवा है मुहीम इस कदर फैले कि गांधी जयंती पर पूरा देश चमकता दिखे। पीएम ने लोगों के छोटे दुकानदारों के प्रति अडिय़ल रवैये पर नाराजगी जताई। पीएम ने कहा कि जब आप शोरूम में मोलभाव नहीं करते हैं तो किसी छोटे दुकानदार से मोलभाव क्यों करते हैं। 29 अगस्त को खेल दिवस के लिए भी पीएम मोदी ने कहा कि ज्यादा से ज्यादा युवा खेल के लिए जुड़ें।

शिक्षक दिवस पर सभी शिक्षक बदलाव का संकल्प लें। गुजरात बाढ़ पर बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा गुजरात में बीते दिनों बाढ़ आई। लेकिन बाढ़ का पानी जब चला गया तो वहां हालात और भी खराब हो गए। जनधन योजना भारत ही नहीं पूरी दुनिया के आर्थिक पंडितों की चर्चा का विषय रहा है। इसके माध्यम से हमने 30 करोड़ लोगों को बैंक खातों से जोड़ा है।

You May Also Like

English News