ANDROID USERS संभलकर, आपका बैंक अकाउंट खाली कर सकते हैं हैकर्स

स्मार्टफोन ने लोगों का काम जितना आसान किया है उससे ज्यादा तकलीफ और असुरक्षा भी बढ़ा दी है। सबसे ज्यादा डर नेटबैंकिंग और आॅनलाइन पेमेंट के लिए मोबाइल का उपयोग करने वालों के लिए है। हैकर्स और साइबर अपराधी इस तरह के हथकंडे अपना रहे हैं कि लोगों को उनके लूटने का आभास भी काफी समय बाद हो रहा है। ऐसे ही कई मैलवेयर भी हैकर्स ने बनाए हैं जिससे एंड्रायड फोन उपयोग करने वालों को आसानी से निशाना बनाया जा रहा है। ये लोग आॅनलाइन बैंकिंग से लोगों को लूट रहे हैं। यह ड्रिनिक के नाम से मैलवेयर है। आइए जानते हैं यह किस तरह लोगों को निशाना बना रहा है।.

मिल रही है सावधान रहने की चेतावनी
जानकारी के मुताबिक इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम की ओर से एंड्रायड फोन उपयोग करने वाले लोगों को इस बारे में सचेत किया जा रहा है। टीम की ओर से बताया जा रहा है कि ड्रिनिक के नाम से जो मैलवेयर आया है वह काफी तेजी से लोगों का बैंक खाता खाली कर सकता है। यह बंैकिंग जानकारी चुराने की कोशिश करता है। यह न हर तरह के बैंकों को निशाना बनाता है और यह करीब 27 तरह के बैंक के ग्राहकों को लूटता है।

क्या है यह ड्रिनिक मैलवेयर
जानकारी के मुताबिक, ड्रिनिक मैलवेयर भारतीय बैंक ग्राहकों को ही अपना शिकार बनाता है और यह इनकम टैक्स रिफंड के रूप में हर जगह बढ़ रहा है। यह एक तरह का बैंकिंग ट्रोजन है जो स्क्रीन को फंसाने में सक्षम है और उपयोगकर्ताओं को बेहद गोपनीय बैंक की जानकारी दर्ज करने के लिए काम करता है। बताया जाता है कि इनकम टैक्स वेबसाइट की तरह दिखने वाली एक ऐसी ही फंसाने वाली वेबसाइट से एक लिंक के साथ एसएमएस मिलेगा और यहां इसे इंस्टाल करते ही जानकारी मांगी जाएगी। इसके बाद आपकी तमाम अनुमति मांगता है। अगर अनुमति नहीं देंगे तो यह आगे काम नहीं करेगा। लेकिन जानकारी देने पर यह आसानी से आपके फोन में आएगा। इसके बाद यह नाम, आधार कार्ड नंबर, बैंक खाते की जानकारी, बैंक खाता नंबर और हर चीज जो आपको बैंक से जुड़ी है वह जान जाएगा। यहां तक की आपका सीवीवी नंबर और पिन भी। जैसे ही आप इनकम टैक्स रिफंड पैसे के लिए ट्रांसफर का बटन क्लिक करेंगे तो आपकी सारी जानकारी हैकर्स तक पहुंच जाएगी।

कैसे बच सकते हैं
जानकारी के अनुसार, हैकर्स आपके बैंक खाते से संबंधित जानकारी का उपयोग मोबाइल बैंकिंग स्क्रीन जेनरेट करने के लिए करता है। इससे बचने के लिए आप न जानने वाले एप का डाउनलोड हटा सकते हैं। साथ ही गूगल स्टोर आपको ऐसे किसी भी ऐप को इंस्टाल करने के बारे में अगाह करता है। आप ऐप को डाउनलोड करने से पहले उसकी भी पड़ताल कर सकते हैं। रिव्यू और कमेंट पढ़े जो इसका उपयोग कर रहे हैं।

GB Singh

English News

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com