HDFC ने एफडी की ब्याज दरें बढ़ाई

 भारत के सबसे बड़े बैंक भारतीय रिजर्व बैंक की तरफ से कुछ दिन पहले ही  रेपो रेट बढ़ाई गई है. जिसके बाद प्राइवेट बैंक एचडीएफसी ने अपने  अलग-अलग मच्योरिटी के फिक्स्ड डिपॉजिट्स के रेट में तक़रीबन  0.6 पर्सेंट तक एक इजाफा किया है. 

भारत की बैंक रेगुलेटरी आरबीआई  ने पिछले सप्ताह  रेपो रेट को  0.25 पर्सेंट  से बढ़ाकर  6.5 पर्सेंट तक कर दिया है. जिसके बाद सरकारी और निजी बैंको ने अपनी एफडी के ब्याज दरों में इजाफा किया है. एचडीएफसी बैंक की वेबसाइट के अनुसार यह नई दरें सोमवार से लागू की जा चुकी है. जानकारों की मानें तो एफडी रेट्स में बैंक की तरफ से इजाफे के बाद बैंक अपनी ब्याज दरों में भी इजाफा कर सकता है. इन सब के अलावा बैंक ने वरिष्ठ नागरिकों के लिए फिक्स्ड डिपॉजिट ब्याज दरों में भी चेंजेस किये है. एचडीएफसी ने छह महीने से लेकर पांच साल तक के एफडी के इंटरेस्ट रेट्स में बदलाव किया है. 

-छह महीने से लेकर नौ महीने तक की एफडी का इंटरेस्ट रेट 6.75 पर्सेंट कर दिया गया है जो कि पहले 0.4 प्रतिशत था.
-नौ महीने से लेकर एक साल से कम तक की एफडी कि लिए नई ब्याज दर में 0.6 प्रतिशत तक इजाफा किया गया है. 
-एक साल की एफडी का इंटरेस्ट रेट 7.25 पर्सेंट और  पांच साल तक की एफडी का इंटरेस्ट रेट 0.10 प्रतिशत तक बढ़ाया गया है.

You May Also Like

English News