अभी-अभी: मोदी सरकार को लगा एक और बड़ा झटका, सुप्रीम कोर्ट ने मौलिक अधिकार मानने से किया इनकार…

सुप्रीम कोर्ट की ओर से राइट टू प्राइवेसी पर बड़ा फैसला आने के बाद इसे मोदी सरकार को एक बड़ा झटका माना जा रहा है। मोदी सरकार की ओर से पहले भी इसे मौलिक अधिकार मानने से इनकार किया गया था, लेकिन कोर्ट ने सरकार की इस बात को नकार दिया है। कोर्ट के इसे फैसले के बाद सोशल मीडिया पर दिग्गज नेताओं के रिएक्शन आने लगे हैं। जानें किसने क्या कहा?अभी-अभी: मोदी सरकार को लगा एक और बड़ा झटका, सुप्रीम कोर्ट ने मौलिक अधिकार मानने से किया इनकार...योगी कानून का राज! छेड़खानी का किया विरोध, तो तलवार से काट दिया इस लड़की का हाथ

सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि इस फैसले का स्वागत करते हैं. अब आधार पर फैसले का इंतजार है।

कांग्रेस के नेता सलमान खुर्शीद ने कहा कि निजता को मौलिक अधिकार करार दिया जाना लोकतंत्र की जीत है। खुशी है उनकी हार हुई है, जो लोगों की निजता में घुसने की लगातार कोशिश कर रहे थे। उम्मीद है कि लोगों को केंद्र का विरोध भी याद रहे जो उन्होंने राइट टू प्राइवेसी के खिलाफ किया था।

उमर अब्दुल्ला ने कहा कि मेरे पास निजता का अधिकार है और ये मेरा मौलिक अधिकार है।

सीता राम येचुरी ने कहा कि उन सभी को शुभकामनाएं जो निजता के मौलिक अधिकार करार दिए जाने की लड़ाई लड़ रहे थे। उन्होंने कहा कि जीवन में टेक्नोलॉजी की बढ़ती भूमिका के बीच ये फैसला दूरगामी साबित होगा। आधार के डाटा लीक होने का मुद्दा उठाते हुए येचुरी ने कहा कि हम इसका शुरू से विरोध कर रहे हैं।

कांग्रेस के पी. चिदंबरम ने बड़े फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि निजता एक मौलिक अधिकार है, जो आजादी हमें 1947 में मिली थी, वो इस फैसले से और भी वृहद हुई है।

रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि स्वतंत्रता के मद्देनजर ये एक बड़ी जीत है।

You May Also Like

English News