Breaking News

केदारनाथ पहुंच रहे श्रद्धालुओं की हृदयाघात से सबसे ज्यादा हो रही मौतें

चारधाम के कपाट खुलने के बाद से अब तक केदारनाथ धाम में हृदयाघात से सबसे अधिक श्रद्धालुओं की मौत हुई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. बीके शुक्ला ने बताया कि रविवार को केदारनाथ धाम में आंध्र प्रदेश निवासी कोटपाली ज्योति (57) ने दम तोड़ा।

चारों धाम में 105 श्रद्धालुओं की मौत

इसके अलावा यमुनोत्री दर्शनों को जाते हुए मुंबई निवासी अरविंद (56) भी दोपहर के वक्त जानकीचट्टी में अचानक बेहोश हो गए। स्वजन ने उन्हें स्थानीय अस्पताल पहुंचाया, लेकिन तब तक वह दम तोड़ चुके थे। इसी के साथ केदारनाथ में हृदयाघात से मरने वालों की संख्या 48 और यमुनोत्री में 27 पहुंच गई है। जबकि, चारों धाम में 105 श्रद्धालुओं की मौत हुई है।

हृदयाघात से मरने वाले श्रद्धालु

धाम-29 मई को- कुल मृतक

यमुनोत्री- 01- 27

गंगोत्री- 00- 05

केदारनाथ- 01- 48

बदरीनाथ- 00- 20

ऋषिकेश- 00- 05

श्रद्धालुओं की मदद कर रही संस्थाएं

प्रशासन की ओर से तमाम व्यवस्था होने के बावजूद ऋषिकेश पंजीकरण केंद्र के बाहर श्रद्धालु धूप में लाइन में खड़े होकर अपनी बारी का इंतजार करने को मजबूर हैं। गर्मी में परेशान श्रद्धालुओं को राहत पहुंचाने के लिए लायंस क्लब रायल की ओर से पानी की बोतलें उपलब्ध कराई गई। इस मौके पर क्लब के अध्यक्ष हिमांशु अरोड़ा, वरिष्ठ सदस्य धीरज मखीजा सुशील छाबड़ा, अभिनव गोयल, सुमित चोपड़ा, अतुल जैन आदि मौजूद रहे।

500 व्यक्तियों के लिए मुफ्त भोजन सुविधा की शुरुआत

इतना ही नहीं स्थानीय सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से श्रद्धालुओं को दो समय का भोजन भी उपलब्ध कराया जा रहा है। रविवार की दोपहर यात्रा प्रशासन कार्यालय भवन के समीप अपर जिलाधिकारी डा. एसके बरनवाल,उप जिलाधिकारी शैलेंद्र सिंह नेगी ने स्थानीय नागरिकों के सहयोग से 500 व्यक्तियों के लिए मुफ्त भोजन सुविधा की शुरुआत की।

English News

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com