SBI: अब काटेगा आपकी जेब, सर्विस चार्ज में हुआ बदलाव,एक जून से ये नियम होगे लागू

सरकारी क्षेत्र का सबसे बड़ा बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया एक बार फिर अपनी सेवाओं पर लगने वाले शुल्क में बदलाव करने जा रहा है। सर्विस चार्ज में ये बदलाव एक जून से लागू हो जाएंगे। बचत खाते में जमा रकम की न्यूनतम सीमा लागू होने से हलाकान एसबीआई ग्राहकों की जेब नए नियमों से और कटने वाली है।SBI अब काटेगा आपकी जेब, सर्विस चार्ज में हुआ बदलाव,एक जून से ये नियम होगे लागू

यह भी पढ़े: शेयर बाजार में 20,000 करोड़ रुपये निवेश करेगा ईपीएफओ..

सबसे अहम बदलाव खाते से कैश निकालने के नियम में किया जा रहा है। एक जून से एक माह में केवल चार बार ही रकम निकासी मुफ्त होगी। इसमें एटीएम के जरिये पैसे निकालना भी शामिल है।

अगर कोई व्यक्ति पांचवीं बार रकम निकासी अपनी बैंक शाखा से करता है तो उसे 50 रुपये और सर्विस टैक्स अतिरिक्त चुकाना होगा। वहीं, अगर यह निकासी एसबीआई के एटीएम से होती है तो 10 रुपये और दूसरे बैंक के एटीएम से होती है तो 20 रुपये शुल्क देना होगा। सर्विस टैक्स अलग से लगेगा। 

कटे-फटे नोट बदलना भारी
अगर कोई व्यक्ति 20 कटे-फटे नोट जिनकी कुल कीमत 5000 रुपये तक होगी, बदलता है तो उस पर कोई शुल्क नहीं है। लेकिन बदले जाने वाले नोटों की संख्या अगर 20 से ज्यादा है तो हर नोट पर दो रुपये एवं सर्विस टैक्स देना होगा। इसी तरह अगर नोटों की कीमत 5000 रुपये से ज्यादा है तो दो रुपये प्रति नोट और पांच रुपये प्रति हजार (सर्विस टैक्स सहित), जो भी शुल्क ज्यादा आएगा वह चुकाना पड़ेगा। 

किस पर कितना लगेगा सर्विस चार्ज 

ऑनलाइन बैंकिंग
इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, यूपीआई और यूएसएसडी तरीके से आईएमपीस (इमीटिएड पेमेंट सिस्टम) फंड ट्रांसफर करने पर भी लगने वाले शुल्कों में बदलाव किया गया है। एक लाख तक के ट्रांसफर पर पांच रुपये, एक लाख से दो लाख पर 15 रुपये और दो लाख से पांच लाख तक की रकम ट्रांसफर करने पर 25 रुपये शुल्क अदा करना पड़ेगा। यहां भी सर्विस टैक्स अलग से झटका लगेगा।चेक बुक
अगर कोई बचत खाताधारक 10 पेज (लीफ) वाली चेक बुक लेता है तो 30 रुपये देने होंगे। 25 पेज वाली के लिए 75 रुपये और 50 पेज वाली चेक बुक के लिए 150 रुपये शुल्क देना होगा। इसमें सर्विस टैक्स अलग लगेगा।  

एटीएम कार्ड
एक जून से एसबीआई केवल रुपे डेबिट कार्ड ही मुफ्त मुहैया कराएगा। इसके अलावा मास्टर एवं वीजा कार्ड लेने पर शुल्क देना होगा। बैंक ने अपने वॉलेट बडी को लेकर भी शुल्क में बदलाव किए हैं।

You May Also Like

English News