Sport: अभी मैदान में पैर नहीं जमा पा रहे हैं अर्जुन तेंदुलकर!

हम्बनटोटा: क्रिकेट के भागवान कहे जाने वाले सचिनन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन अभी मैदान पर अपने पैर नहीं जमा पा रहे हैं। दूसरे युवा टेस्ट मैच पर भारत अंडर 19 टीम ने श्रीलंका अंडर 19 के टॉप ऑर्डर को झकझोरकर अपनी पकड़ मजबूत कर ली।


पवन शाह के रिकॉर्ड दोहरे शतक की बदौलत भारत अंडर 19 ने 613 रन का विशाल स्कोर बनाकर अपनी पहली पारी घोषित कर दी। श्रीलंका ने इसके जवाब में दिन का खेल समाप्त होने तक चार विकेट पर 140 रन बना लिए हैं और अभी भारत के स्कोर से 473 रन पीछे है जबकि उसके छह विकेट शेष है। अथर्व तायडे ने 177 रन की पारी खेली।

सबकी निगाहें अर्जुन तेंदुलकर पर थीं लेकिन वह कोई खास कमाल नहीं दिखा पाए। पवन शाह ने 282 रन बनाए जो अंडर .19 युवा टेस्ट मैचों में किसी भारतीय का सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर है। उन्होंने तन्मय श्रीवास्तव का रिकॉर्ड तोड़ा जिन्होंने 2006 में पाकिस्तान के खिलाफ पेशावर में 220 रन बनाये थे। शाह का स्कोर युवा टेस्ट मैचों में आस्ट्रेलिया के क्लिंटन पीक के नाबाद 304 रन के बाद दूसरा सबसे बड़ा स्कोर है।

पीक ने 1995 में भारत के खिलाफ मेलबर्न में यह पारी खेली थी। शाह की पारी का आकर्षण पारी के 108 वें ओवर में बायें हाथ के तेज गेंदबाज विचित्रा परेरा पर लगातार छह चौके लगाना रहा। उन्होंने इनमें से पहले चौके से दोहरा शतक पूरा कियाण् अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इससे पहले एक ओवर में छह चौके 1982 में संदीप पाटिल ने इंग्लैंड के तेज गेंदबाज बाब विलिस पर लगाए थे।

विलिस ने हालांकि उस ओवर में एक नोबॉल भी की थी। शाह ने अपनी पारी में 382 गेंदों का सामना किया तथा 33 चौके और एक छक्का लगाया। भारतीय टीम ने सुबह चार विकेट पर 428 रन से आगे खेलते हुए अपनी पहली पारी आठ विकेट पर 613 रन बनाकर समाप्त घोषित की। दूसरे मैच में अर्जुन से काफी उम्मीदें थी लेकिन वह 14 रन बनाकर रन आउट हो गए। उन्होंने 18 गेंदों में 2 चौकों की मदद से 14 रन बनाए। पहले मैच में भी अर्जुन बैटिंग में कोई कमाल नहीं दिखा सके थे और शून्य पर आउट हो गए थे। हालांकि पहले मैच में उन्होंने गेंदबाजी में एक विकेट लिया था जिसकी काफी चर्चा हुई थी। अभी तक अर्जुन के खाते के इस दौरे में केवल यही एकमात्र उपलब्धि दर्ज है।

You May Also Like

English News