ट्रेन की हर सीटी का होता है अपना मतलब, जानकर उड़ जाएंगे आपके होश…

तलाशने पर शायद ही ऐसा कोई शख्स मिल पाएगा, जिसने ट्रेन का हॉर्न न सुना हो। भले ही अपने जीवन में उसने कभी रेलयात्रा न की हो लेकिन ट्रेन के हॉर्न की आवाज उसके कानों को जरूर सुनाई दी होगी। लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि ट्रेन के इंजन की हर सीटी का अपना मतलब होता है। ये जानकारी बहुत कम लोगों के पास होगी। तो चलिए आपको भी बताते हैं ट्रेन के हॉर्न के मतलब… ट्रेन की हर सीटी का होता है अपना मतलब, जानकर उड़ जाएंगे आपके होश...

दुनिया भर से सबसे ज्यादा लोग इस बॉर्डर को आते हैं देखने, ये खासियत…

ट्रेन के इंजन से 11 अलग-अलग तरह के हॉर्न बजाए जाते हैं। सभी हॉर्न का अपना एक विशेष अर्थ होता है। इस सवाल का जवाब शायद आपके पास न हो, ये भी हो सकता है कि आप भारतीय रेलवे के अलग-अलग तरह के बजने वाले हॉर्न में कभी अंतर ही न महसूस कर पाए हों। ऐसे में आपको ये फर्क कैसे समझ आएगा। 

एक शॉर्ट हॉर्न
एक शॉर्ट हॉर्न जो कुछ सेकेंड के लिए केवल एक बार बजाया जाता है। इस हॉर्न का मतलब होता है ट्रेन यार्ड में आ गई है और उसकी अगली यात्रा के लिए उसकी सफाई का वक्त भी हो गया है।

दो शॉर्ट हॉर्न
जब ट्रेन दो शॉर्ट हॉर्न बजाए तो आपको समझ जाना चाहिए कि ट्रेन चलने के लिए पूरी तरह तैयार है। यह हॉर्न लोकोपायलट का इंजन गार्ड से ट्रेन चालू करने के लिए सिग्नल के लिए बजाया जाता है।

तीन शॉर्ट हॉर्न
तीन शॉर्ट हॉर्न केवल आपातकालीन स्थिति में ही बजाया जाता है। रेलवे में बहुत ही कम मामलों में ये हॉर्न बजाया जाता है। इसलिए आपके कानों को ये हॉर्न शायद ही सुनने को मिला हो। यह हॉर्न जब भी बजाया जाता है तो इसे मोटर मैन ही बजाता है। इसका मतलब होता है कि लोकोपायलट का इंजन से कंट्रोल खत्म हो गया है। लोकोपायलट इस हॉर्न से गार्ड को संकेत देता है, वह वैक्यूम ब्रेक से ट्रेन को रोके। 

4 शॉर्ट हॉर्न
4 छोटे-छोटे हॉर्न का मतलब है कि ट्रेन में तकनीकी खराबी आ गई है और ट्रेन आगे के सफर पर फिलहाल नहीं जा सकती। इस हॉर्न का मतलब भी आपको नहीं पता होगा।

एक छोटा और एक लंबा हॉर्न
इस प्रकार के हॉर्न का मतलब होता है कि इंजन शुरू करने से पहले मोटरमैन गार्ड को ब्रेक पाइप सिस्टम चैक करने के सिग्नल देता है।

दो छोटा और दो लंबे हॉर्न
इस हॉर्न का मतलब है मोटरमैन इंजन का नियंत्रण के लिए गार्ड को सिग्नल भेजता है।

दो छोटा और एक लंबा हॉर्न
ट्रेन का चालक यानी लोकोपायलट दो छोटे और एक लंबा हॉर्न बजाता है तो इसके दो मतलब होते हैं। इसका पहला मतलब होता है कि या तो किसी ने चेन पुलिंग की है जबकि दूसरा मतलब होता है कि गार्ड ने वैक्यूम प्रेशर ब्रेक लगाए हैं।

लगातार लंबा हॉर्न
ट्रेन ड्राइवर अगर लगातार लंबा हॉर्न बजाता है तो इसका सीधा मतलब होता है कि ट्रेन प्लेटफॉर्म पर नहीं रुकेगी। वह सीटी बजाते हुए गंतव्य के लिए सीधा जाएगी। इस हॉर्न को यात्रियों को सूचित करने के लिए बजाया जाता है ताकि वे जान सकें कि ट्रेन स्टेशन पर नहीं रुकेगी।

दो बार रुककर हॉर्न
जब ट्रेन दो बार रुक-रुक कर हॉर्न बजाए तो आपको समझ जाना चाहिए कि ट्रेन रेलवे क्रासिंग के नजदीक आने वाली है। इस प्रकार के हॉर्न बजाने का अर्थ होता है कि ट्रेन रेलवे क्रासिंग के पास आने वाली है। यह इसलिए बजाया जाता है ताकि पटरियों के आस-पास खड़े लोग वहां से हट जाएं।

दो लंबे और एक छोटा हॉर्न
ये हॉर्न रेलवे की इंटरनल कार्यप्रणाली के दौरान बजाया जाता है। यदि आपके ट्रेन में सफर करने के दौरान दो लंबा और एक छोटा हॉर्न बजे तो समझिए कि ट्रेन ट्रैक चेंज करने वाली है।

छह बार छोटे हॉर्न
लोकोपायलट की तरफ से ऐसा हॉर्न कम ही बजाया जाता है। क्योंकि ऐसा हॉर्न चालक तब बजाता है जब उसे किसी खतरे का आभास होता है। यदि इस तरह का हॉर्न बजे तो ट्रेन में बैठै मुसाफिर को सतर्क हो जाना चाहिए।

You May Also Like

English News