Game: खूनी बना जल्लीकट्टू का खेल, तीन की गयी जान कई घायल!

चेन्नई: तमिलनाडु के विभिन्न स्थानों पर जल्लीकट्टू यानि सांड को काबू करने के पारंपरिक खेल के दौरान तीन लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए। शिवगंगा जिले के एक गांव में एक सांड के हमले में दो लोगों की मौत हो गई, वहीं हमले में लगभग 50 लोग घायल हुए हैं।


इसी तरह में चेन्नई से 350 किलोमीटर दूर त्रिची जिले में जल्लीकट्टू के दौरान एक सांड़ के हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए। इस बीचए मदुरै जिले के अलंगनल्लूर में तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलनीस्वामी और उपमुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम ने संयुक्त रूप से जल्लीकट्टू को हरी झंडी दिखाई।

इस आयोजन में लगभग 1000 सांडों और साड़ों को काबू करने के लिए 1200 लोगों ने भाग लिया। जल्लीकट्टू तमिलनाडु का पारंपरिक खेल है, जो पोंगल उत्सव का हिस्सा है।

खेल जीतने वाले को और बेतरतीब बैल के मालिकों को नकद पुरस्कार, उपभोक्ता टिकाऊं वस्तुएं, दोपहिया वाहन और अन्य पुरस्कारों से सम्मानित किया जाता है। इस वर्ष अलंगनल्लूर के आयोजन में पुरस्कारों की सूची में दो कारें भी रखी गई हैं। इस बार का पहला जल्लीकट्टूश् कार्यक्रम 14 जनवरी को मदुरै में आयोजित किया गया।

You May Also Like

English News