सनसनीखेज: प्रेमी की हत्या कर उसके खिलाफ शिकायत करने पहुंची प्रेमिका, गिरफ्तार!

लखनऊ: राजधानी लखनलऊ के आशियाना इलाके में एक सनसनीखेज घटना घटी है। आशियाना के सेक्टर एच इलाके में शनिवार को मिले शव की शिनाख्त उत्तराखण्ड इलाके में रहने वाले खनन ठेकेदार सुनील कुमार मौर्य के रूप में की गयी है। सुनील की हत्या उसकी कथित प्रेेमिका ने अपने घर में की थी। महिला का कहना है कि सुनील उस पर शादी का दबाव बना रहा था। इसके चलते 17 अगस्त को उसने सुनील की हत्या कर शव को मकान के पास झाडिय़ों में फेंक दिया।

फिलहाल पुलिस ने आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी महिला कानपुर के बिल्हौर में तैनात लेखपाल की पत्नी है। महिला का अपने पति से संबंध नहीं है। इस हत्या में शामिल अन्य लोगों के बारे में भी पुलिस पता लगा रही है।
सीओ कैण्ट तनु उपाध्याय ने बताया कि आशियाना के सेक्टर एच संगम विहार कालोनी में शनिवार को एक युवक का शव पड़ा मिला था।

पुलिस ने फारेंसिक यूनिट व अन्य साक्ष्य के आधार पर छानबीन की तो पास में ही रहने वाली नेहा नाम की एक महिला पर पुलिस का शक गया। नेहा घर से गायब थी। इस बीच पुलिस ने किसी तरह मृतक की पहचान उत्तराखण्ड निवासी सुनील के रूप में की। शव की पहचान सुनील की पत्नी ने की। इसके बाद पुलिस ने छानबीन को आगे बढ़ाया तो नेहा की भूमिका संदिग्ध मिली। सर्विलांस व अन्य माध्यमों से सुनील व नेहा के बीच बातचीत की भी जानकारी पुलिस को हुई।

रविवार की सुबह आशियाना पुलिस ने नेहा को पकरी पुल से पकड़ लिया। पूछताछ की गयी तो उसने सुनील की हत्या करने की बात कबूल ली। आरोपी नेहा ने बताया कि 17 अगस्त की रात सुनील उसके घर शराब के नशे में आया था और वह उस पर शादी का दबाव बना रहा था। इस पर नेहा ने सुनील की गला दबाकर हत्या कर दी और फिर सुनील के शव को मकान के पास ही झाडिय़ों में फेंक दिया। नेहा का कहना है कि इस हत्या को उसने अकेले ही अंजाम दिया, जबकि पुलिस इस बात का गलत मान रही है। पुलिस का कहना है कि वारदात में नेहा के साथ और भी लोग शामिल थे, क्योंकि अकेली महिला एक व्यक्ति का शव इस तरह ठिकाने नहीं लगा सकती है।

इस तरह हुई थी नेहा व सुनील की पहचान
सीओ कैण्ट ने बताया कि नेहा का एक रिश्तेदार उत्तराखण्ड में रहता है और बैंक में काम करता है। उसने ही सुनील को नेहा व उसके पति संजीव राठौर के बारे में बताया था। उसने ही सुनील से दोनों के बीच चल रहे विवाद में पड़कर मामले को सुलझाने के लिए कहा था। बस इसके बाद सुनील नेहा के सम्पर्क मेें आ गया। छानबीन के दौरान पुलिस को इस बात का भी पता चला है कि सुनील अक्सर लखनऊ आकर नेहा के घर ठहरता था। इस दौरान सुनील की नेहा से नजदीकियां हो गयी और वह नेहा से शादी रचाने का ख्वाब देखने लगा।

सुनील की हत्या उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंची थी नेहा
आरोपी नेहा काफी शातिर व चालक है। 17 अगस्त को सुनील की हत्या करने के बाद वह 18 अगस्त को आशियाना थाने पहुंची और सुनील पर छेडख़ानी का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज कराने की मांग की। इस पर पुलिस ने नेहा से मेडिकल की बात की तो वह सुनील के खिलाफ बिना रिपोर्ट दर्ज कराये ही चली गयी।

You May Also Like

English News