यह देखिए ! लखनऊ रफ्तार गैंग, जो शौक के लिए करता था लूट

लखनऊ: केटीएम डयूक बाइक से महिलाओं से पर्स व चेन लूटने वाले दो शातिर बदमाशों को अलीगंज पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पकड़े गये दोनों लुटेरे रफ्तार गैंग के सदस्य है। पुलिस ने उनके पास से 21 हजार रुपये, लूटे गये 20 मोबाइल फोन, एक लैपटाप, सोने की अंगुठी व पायल बरामद की है।


एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि अलीगंज पुलिस ने मुखबिर व सर्विलांस की मदद से बीती रात एचडीएफसी बैंक के पास केटीएम डयूक बाइक सवार दो युवकों को पकड़ा। पुलिस ने जब दोनों से बाइक के पेपर मांगे तो वह पेपर नहीं दिखा सके। शक होने पर पुलिस ने जब दोनों की तलाशी ली तो उनके पास से 21 हजार रुपये, लूटे गये 20 मोबाइल फोन, एक लैपटाप, एक सोने की अंगूठी व एक चांदी की पायल बरामद की।

पुलिस ने जब आरोपियों के पास से बरामद सामान के बारे में पूछताछ की तो दोनों ने बताया कि सारा सामान व रुपये लूट के हैं। पूछताछ में दोनों लुटेरों ने अपना नाम अलीगंज निवासी शुभम पाल व मडिय़ांव निवासी रोहित शर्मा बताया। अलीगंज एसओ जयशंकर सिंह ने बताया कि पकड़े गये दोनों लुटेरे रफ्तार गैंग के सदस्य हैं और काफी लम्बे समय से लूट की वारदात को अंजाम दे रहे हैं। आरोपी रोहित पहले भी गोमतीनगर, महानगर व नाका से लूट के मामले में जेल जा चुका है।

नशे व हाईफाई शौक ने बना दिया लुटेरा
पकड़े गये लुटेरों ने बताया कि वह लोग गांजा पीने के आदी हैं। इसके अलावा अपने व अपनी गल्फ्रेंड की ख्वाहिशों को पूरा करने के लिए यह लोग लूटपाट करते थे। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वह सुबह उठते ही वह लोग गुलाला घाट पहुंच जाते थे। इसके बाद वह लोग वहां पर स्मैक व गांजे का नशा करते थे। इसके बाद करीब 11 बजे वहां से निकल कर शहर भर में महिलाओं के साथ लूटपाट करते थे। आरोपियों का कहना है कि वह लोग अकेली जाने वाली महिलाओं को खासकर टारगेट करते थे। इसके बाद उसका पीछा कर सुनसान जगह पर लूट की वारदात को अंजाम देते थे।

इन घटनाओं को हुआ खुलासा
पकड़े गये रफ्तार गैंग के लुटेरों ने अलीगंज इलाके मेें सात, काकोरी में दो, सरोजनीनगर में एक, पारा मेें एक, जानकीपुरम में दो व मडिय़ांव इलाके में दो लूट की वारदातों को अंजाम देने की बात कबूली है। पुलिस का कहना है कि रफ्तार गैंग के लुटेरों ने अब तक राजधानी में 100 से अधिक लूट की वारदातों को अंजाम दिया है।

You May Also Like

English News